बिहार के मुख्य सचिव पर भड़का सुप्रीम कोर्ट, क्या आप सीएम से ऐसे ही मिलते हैं

अनजानी कुमार सिंह चीफ सेक्रेट्री

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के चीफ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह को सुप्रीम कोर्ट से फटकार लगाई गई है. यह फटकार किसी कार्य में लापरवाही में नहीं लगाई है है. और न ही यह फटकार बिहार के विकास कार्य में धीमी गति को लेकर है. बल्कि सुप्रीम कोर्ट ने यह फटकार अंजनी कुमार सिंह के पहनावे को लेकर लगाई है. कोर्ट ने उन्हें कार्रवाई के दौरान जरूरी शिष्टाचार का उल्लंघन करने के लिए कड़ी फटकार लगाई और सुनवाई अगले दिन के लिए स्थगित कर दी. 

दरअसल, मंगलवार को 1981 बैच के आईएएस अधिकारी अंजनी कुमार सिंह को जस्टिस जे चेलेमेश्वर और जस्टिस एस अब्दुल नजीर की बेंच ने समन किया था. सुप्रीम कोर्ट ने उनसे बिहार सरकार की तरफ से संपत्ति विवाद पर अपील दायर करने में 4 साल और 23 दिनों की देरी करने पर स्पष्टीकरण मांगा था. अंजनी कुमार सिंह इनफॉर्मल ड्रेस में ही सुप्रीम कोर्ट में पेश हो गए. वे ट्राउजर्स पहन कर जज के सामने खड़े थे. जिस पर सुप्रीम कोर्ट के जज बिगड़ गए. उन्होंने अंजनी कुमार सिंह को खूब लताड़ा. साथ ही उनके इस पहनावे से नाराज हो कर सुनवाई भी स्थगित कर दी. 

बाद में कोर्ट ने मामले की सुनवाई स्थगित करते हुए उन्हें बुधवार को फॉर्मल  ड्रेस  में आने के लिए कहा. ब्लैक रंग के ट्राउजर्स और बंदगला कोट पहने हुए सिंह ने ड्रेस कोड का पालन नहीं करने के लिए कोर्ट से बेशर्त माफी मांग ली. हालांकि बेंच का गुस्सा फिर भी कम नहीं हुआ  और उन्होंने अंजनी कुमार से पूछा कि क्या वह अपने पॉलिटिकल बॉस का भी ऐसे ही अपमान करते हैं.

कोर्ट ने कहा कि सरकारी अधिकारियों को न्यायपालिका का भी वैसे ही सम्मान करना चाहिए जैसे वे संवैधानिक पदों पर बैठे अन्य व्यक्तियों का करते हैं. कोर्ट ने पूछा, ‘क्या आप बता सकते हैं कि आप अपने सीएम के साथ कैसा बर्ताव करते हैं? क्या आप इस तरह के पहनावे में सीएम से मुलाकात करने पहुंच जाते हैं? अगर नहीं तो फिर आप कोर्ट में इस तरह के कपड़ों में कैसे आ सकते हैं? देश की सर्वोच्च अदालत में आने का यह कोई तरीका नहीं है.’

यह भी पढ़ें-  पॉलिथीन के अब तक बंद नहीं होने से हाईकोर्ट नाराज़, राज्य सरकार से मांगा जवाब