लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं. इसको लेकर सभी पार्टियां अपनी ओर से तैयारी में जुट गई है. वहीं, बिहार के युवा नेता विधानसभा चुनाव होने से पहले कमर कस चुके हैं. जहां, एक तरफ चिराग पासवान फर्स्ट  बिहार, बिहारी फर्स्ट यात्रा पर निकले हुए हैं. वहीं दूसरी तरफ आरजेडी के नेतृत्वकर्ता तेजस्वी यादव बेरोजगारी हटाओ यात्रा पर निकले हुए हैं. जबकि, एक और युवा नेता कन्हैया कुमार ने जन गण मन यात्रा पूरा करके गुरूवार को पटना के गांधी मैदान में महारैली किया.

ऐसे में लोक जन शक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोशल मीडिया पर अपना मास्टर स्ट्रोक खेल दिया है. बिहार के दो युवा नेता के बीच चिराग पासवान ने खुद को बिहारी तेवर में ढ़ालने का मूड बना लिया है. उन्हें पता है कि बिहार में यदि राजनीति करना है तो प्योर ठेंठ बिहारी बनना होगा. चिराग पासवान ने युवाओं के बीच खुद को स्थापित करने के लिए और खुद को जमीन से जुड़ा नेता बताने के लिए अपने ट्विटर अकाउंट का नाम चिराग पासवान से बदल कर अब युवा बिहारी चिराग पासवान कर लिया है.

बता दें कि इन दिनों एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ‘ फर्स्ट  बिहार, बिहारी फर्स्ट’ यात्रा पर निकले हुए हैं. इसी दौरान उन्होनें अपने ट्वीटर अकाउंट पर अपना नाम बदल कर ‘युवा बिहारी चिराग पासवान’ रख लिया है. दरअसल, बिहार चुनाव के लिए पार्टी के एजेंडें के लिए मुद्दा जुटाने निकले चिराग पासवान पहले ही एलान कर चुके हैं कि बिहारियों का कोई भी मुद्दा छूट ना जाए इसलिए वे लोगों के बीच जा-जाकर अपनी पार्टी का एजेंडा तय करेंगे.

ये भी पढ़ें-  मंजू वर्मा और उनके पति को पटना हाईकोर्ट से राहत, निचली अदालत में सुनवाई पर रोक