सुपौल में कोसी नदी का बढ़ा वाटर लेवल, 25 गांवों में घुसा बाढ़ का पानी, संपर्क टूटा

bihar ,flood, kosi river, supaul, सुपौल ,कोसी नदी ,वाटर लेवल, बाढ़ का पानी, संपर्क टूटा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार में बाढ़ का कहर शुरू हो गया है. कोसी नदी अपने पूरे उफान पर है. कोसी ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है. ताजा मामला सुपौल से सामने आ रहा है. मिल रही जानकारी के मुताबिक सुपौल में कोसी का जलस्तर अचानक बढ़ जाने से कई गांवों में नदी का पानी घुस गया है. बताया जा रहा है कि 25 गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं.

दर्जनों गांव में घुसा बाढ़ का पानी

मिल रही जानकारी के मुताबिक नदी का पानी गांव में घुस जाने से कई इलाकों का संपर्क टूट गया है. वहीं अधिकारियों के मुताबिक कोसी का वाटर लेवल नेपाल से आ रहे पानी की वजह से लगातार बढ़ता जा रहा है. इधर सुरक्षा के लिहाज से इलाके में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है. लोगों से ऊंचे स्थानों पर जाने की अपील की जा रही है.

कोसी नदी में गुरुवार की रात पानी बढ़ने से सरायगढ़-भपटियाही प्रखंड क्षेत्र के 1 दर्जन से अधिक गांव के अगल-बगल पानी भर गया. कोसी बराज से गुरुवार को 01 लाख 58 हजार क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा गया था. यह पानी रात होने तक नदी के बीच बसे गांव के अगल-बगल भर गया. जिससे लोगों में बाढ़ की आशंका बढ़ने लगी है. अंचलाधिकारी शरत कुमार मंडल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शुक्रवार को कोसी बराज से अधिकतम 01 लाख 62 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया.

नेपला से छोड़ा जा रहा है पानी

पानी शुक्रवार की रात तक एक बार फिर गांव के अगल-बगल दबाव बना हुआ है. कोसी का पानी अभी तक लौकहा पलार, कोढ़ली पलार, कवियाही, करहरी, उग्रपट्टी, तकिया, बाजदारी, सियानी, कटैया, ढोली, बलथरबा पलार, झखराही, कटैया, भुलिया, बनैनिया पलार आदि गांव पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है. कोसी का पानी इन गांव के अगल-बगल भर गया है. जिस कारण से ही गांव के लोगों को आवागमन की समस्या बढ़ने लगी है.

लोगों का कहना है कि अभी बाढ़ की शुरुआत है. 15 जून से मुख्य रूप से बाढ़ का समय शुरू हो जाता है. फिर कोसी के पानी में उतार-चढ़ाव के बीच लोगों की परेशानी बढ़ती जाती है. गिरधारी गांव के लोगों का कहना है कि इस बार नदी का पानी सीधे रूप से उन सबों के घरों पर दबाव बनाएगा इस कारण गांव छोड़ने की भी समस्या आ सकती है.

About Md. Saheb Ali 3292 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*