बिहार को मिल गया पहला अंतरराज्यीय बस अड्डा, सीएम नीतीश ने किया उद्घाटन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार को आज पहला अंतरराज्यीय बस अड्डा मिल गया. करीब 25 एकड़ में फैले इस पांच मंजिले बस स्टैंड का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया. इस दौरान सुशील मोदी, विजय कुमार चौधरी भी मौजूद रहे. इसके साथ ही औरंगाबाद,आरा, नवादा और झाझा के भी बस अड्डा का सीएम ने उद्घाटन किया.

टर्मिनल का उद्घाटन करते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि बिहार के अन्य जिलों के लिए यहां से बसें खुलेगी. एक ही छत के नीचे यात्रियों को सारी सुविधा मिलेगी.



इस इस बस स्‍टैंड में चार अलग अलग ब्लॉक हैं. यहां स्‍टैंड में शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स व मॉल से लेकर सिनेमा घर, यात्रियों के ठहरने और आराम करने के लिए अत्याधुनिक वेटिंग रूम तथा स्नानागार आदि भी बनाए गए हैं.

साल 2017-18 में मौजा पहाड़ी में अंतरराज्‍यीय बस टर्मिनल योजना को सरकार ने स्वीकृति प्रदान की थी. इस योजना की लागत 339.22 करोड़ है. अब यह बनकर तैयार है.

इस बस स्‍टैंड को अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर का बनाया गया है. बिहार राज्‍य पथ परिवहन निगम की गांधी मैदान बस स्‍टेाड से खुले वाली बसों को भी भविष्‍य में यहीं शिफट किया जाएगा. यहां से रोज तीन हजार बसें खुलेंगीं तथा डेढ़ लाख यात्रियों का आवागमन होगा. विभिन्न क्षेत्रों से आने वाली बसों के लिए अलग-अलग टर्मिनल होंगे.

यहां पर्याय संख्या में टिकट काउंटर बनाये गए हैं. बुजुर्गों और बच्चों की सहूलियत के लिए एस्केलेटर की सुविधा दी गई है. छोटी कारों से आने वालों के लिए एलिवेटेड रोड बनाए गए हैं. शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स, मॉल, वेटिंग हॉल, रेस्‍ट रूम, सिनेमा घर, स्नानागार आदि भी बनाए गए हैं. ड्राइवर और  बस स्टाफ के छहरने के लिए भी इंतजाम किए गए हैं.