Airtel पेमेंट बैंक के CEO शशि अरोड़ा ने दिया इस्तीफा, अब क्या होगा आपके पैसों का…

लाइव सिटीज डेस्कः एयरटेल पेमेंट्स बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ शशि अरोड़ा ने इस्तीफा दे दिया है. भारती एयरटेल इन दिनों पेमेंट्स बैंक में बिना बताए ग्राहकों का खाता खोलने को लेकर विवादों में है. अरोड़ा के इस्तीफे के पीछे इसी विवाद को कारण माना जा रहा है. कंपनी ने अभी तक शशि अरोड़ा के उत्तराधिकारी के नाम की घोषणा नहीं की है. कंपनी की आधार से जुड़ी ई-केवाईसी सेवाओं को यूआईडीएआई ने 16 दिसंबर को स्थगित कर दिया था. एयरटेल पर UIDAI का हंटर, अब नहीं कर सकेंगे सिम को आधार से वैरिफाई

आधार जारी करने वाले प्राधिकार UIDAI ने भारती एयरटेल और एयरटेल पेमेंट्स बैंक के खिलाफ कड़ी कारवाई करते हुए 16 दिसंबर को उनका E-KYC लाइसेंस अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया था. हालांकि एयरटेल ने अपने बयान में यूआईडीएआई द्वारा एयरटेल की ई-केवाई सुविधा को स्थगित करने का उल्लेख किए बिना कहा कि यूआईडीएआई ने आंशिक रूप से यह सुविधा शुरू कर दी है.



कंपनी ने कहा, “शशि अरोड़ा कंपनी के साथ साल 2006 से ही नेतृत्व की भूमिका में जुड़े हुए थे. वे एयरटेल के लिए काफी अहम थे और उन्होंने कंपनी के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है.” बयान में कहा गया, “उन्होंने कंपनी के डीटीएच कारोबार को मजबूत किया और एयरटेल पेमेंट बैंक की आधारशिला रखी. अब शशि ने कंपनी को छोड़कर बाहर के अवसरों पर आगे बढ़ने का फैसला किया है. हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं.” इसके बाद 19 दिसंबर को ई-केवाईसी लाइसेंस रद्द होने और सरकार की फटकार के बाद भारती एयरटेल ने खाताधारकों के जमा हुए पैसे को वापस करने का ऑफर दिया है.

एयरटेल पेमेंट बैंक का ई-केवाईसी लाइसेंस रद्द होने के बाद भारती एयरटेल ने एनपीसीआई (नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया) को चिट्ठी लिखकर ब्याज सहित सब्सिडी लौटाने का वादा किया है. 31 लाख खातों में ग्राहकों की सब्सिडी का ब्याज सहित 190 करोड़ रुपये लौटाने को कंपनी तैयार हो गई है.