…तो चली जाती बक्सर-पटना पैसेंजट ट्रेन के सैकड़ों यात्रियों की जानें, फैल गई थी दहशत

बक्सर(शशांक सिंह) : बहुत बड़ा रेल हादसा होने से बाल-बाल बच गया है. दानापुर-मुगलसराय रेलखंड पर एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया. अचानक वरुणा स्टेशन के समीप डाउन लाइन की पटरी टूट गयी. इसी बीच पैसेंजर ट्रेन आने की सूचना मिली. सूचना मिलते ही अधिकारियों में हड़कंप मच गया. जिसके बाद डाउन का परिचालन करीब एक घंटे तक रोक दिया गया.

घटना के बाद पटरियों की मरम्मत कराने के बाद परिचालन सुचारु रुप से बहार हो सका. बताया जाता है कि सुबह करीब 7 बजे आसपास गांव के लोग खेत घूमने के लिए रेलवे ट्रैक पार कर रहे थे. इसी बीच उन्होंने देखा कि पटरी टूटी हुई. जब तक लोग इसकी जानकारी कंट्रोल को देते तब तक बक्सर पटना पैसेंजर ट्रेन आने लगी. लोगों ने देखा कि अब तो ट्रेन पलट जाएगी. सभी लोगों ने लाल गमछा लेकर रेलवे ट्रैक पर दौड़ने लगे. कोलकाता के भरोसे बैठा है बिहार, अगर हुआ कुछ भी तो सब ठप हो जाएगा



बताया जा रहा है चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए गाड़ी को रोकना शुरू किया. लेकिन जब तक ड्राइवर ट्रेन को रोकता तब तक ट्रेन की दो बोगियां टूटे ट्रैक से आगे निकल गई थी. सहयोग अच्छा था कि कुछ नही हुआ. जब इमरजेंसी ब्रेक का झटके से गाड़ी रोकी तो यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया. लोग ट्रेन से कूदने लगे. जब यात्रियों को इसका पता चला तो उन्होंने चालक का धन्यवाद दिया. ड्राइवर ने इसकी सूचना कंट्रोल को दिया. जैसे ही इसकी सूचना रेल महकमें को मिली तो सभी के होश उड़ गये. जिसके बाद एक बड़ा हादस होने से टल गया.

करीब एक घंटे तक डाउन लाइन का परिचालन ब्लॉक कर अधिकारियों ने पटरी की मरम्मत कर परिचालन को सुचारु रुप से चालू किया. वही की ट्रेनों को जहा तहा खड़ा करना पड़ा. करीब एक घण्टे बाद सभी ट्रेनों को रवाना किया गया. बता दे कि कुछ दिन पहले सुबह करीब आठ बजे डुमरांव स्टेशन के रेलवे क्रॉसिंग के समीप पैसेंजर ट्रेन के गुजरने के बाद अप लाइन का पटरी टूट गया था.