आदेश नहीं था फिर भी मानव श्रृंखला में शामिल हुए यह कांग्रेस विधायक, कर दी CM नीतीश की तारीफ भी

लाइव सिटीज, पटना डेस्कः बिहार कांग्रेस और राजद ने पहले ही कह दिया था कि वो सीएम नीतीश कुमार की मानव श्रृंखला में शामिल नहीं होंगे. कारण बताया गया था कि सीएम नीतीश अपना चेहरा चमकाने के लिए यह मानव श्रृंखला आयोजित कर रहे हैं. लेकिन रविवार को एक ऐसा नजारा देखने को मिला जिसने कई सवाल को जन्म दे दिए हैं. दरअसल पार्टी के आदेश की परवाह किए बिना कांग्रेस के विधान पार्षद रामचंद्र भारती दहेज एवं बाल विवाह के खिलाफ आयोजित मानव श्रृंखला में शामिल हुए. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह इतिहास पुरुष हैं. दहेज एवं बाल विवाह के खिलाफ जो अभियान चलाया है, वह सराहनीय कदम है.

भारती ने कहा कि अपने दिल की आवाज सुनकर वह मानव श्रृंखला में शामिल हुए हैं. कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी को भी इसमें शामिल होना चाहिए, इस अच्छे काम का विरोध नहीं करना चाहिए था. रामचंद्र भारती स्ट्रैंड रोड पर जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के नेतृत्व में बनी मानव श्रृंखला में शामिल हुए. विधान परिषद के पूर्व सभापति अवधेश नारायण सिंह भी यहां मौजूद थे. यशवंत सिन्हा का बड़ा हमला, कहा-तुगलकशाही है AAP विधायकों को अयोग्य घोषित करने का फ़रमान

भारती ने कहा कि राजा राम मोहन राय ने सती प्रथा समाप्त कराई थी और नीतीश कुमार दहेज एवं बाल विवाह जैसी कुरीतियां समाप्त कराने में जुटे हैं. इतिहास नीतीश कुमार को हमेशा याद रखेगा. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा. अशोक चौधरी के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उनका तो मानव श्रृंखला को समर्थन है. वह इस संबंध में बयान दे चुके हैं. दरअसल, कांग्रेस और राजद ने मानव श्रृंखला का यह कहकर विरोध किया था कि मुख्यमंत्री सिर्फ अपना चेहरा चमकाने के लिए यह आयोजन कर रहे हैं.

बता दें कि इससे पहले पूर्व अध्यक्ष डॉ. अशोक चौधरी ने पार्टी लाइन से हटकरमानव श्रृंखला को अपना नैतिक समर्थन दिया था. उन्होंने अन्य राजनीतिक दलों से भी अपील की थी कि लोगों को मतभेद भुला कर कुप्रथा के खिलाफ बनने वाली मानव श्रृंखला को अपना समर्थन देना चाहिए.

उधर बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष कादरी ने मानव श्रृंखला का विरोध करते हुए कहा था कि कि राज्यभर में अराजक स्थिति बनी हुई है. पिछले छह महीने से राज्य में बालू संकट व्याप्त है. मजदूरों को काम की तलाश में राज्य से पलायन करना पड़ रहा है. जबकि दूसरी तरफ सरकार दहेज व बाल विवाह के नाम पर मानव शृंखला का ड्रामा कर रही है.

About Md. Saheb Ali 2566 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*