Flipkart के संस्थापकों पर 10 करोड़ की हेराफेरी का आरोप, FIR दर्ज

लाइव सिटीज डेस्कः ई-कामर्स क्षेत्र की प्रमुख कंपनी फ्लिपकार्ट के संस्थापक सचिन बंसल और बिन्नी बंसल के खिलाफ एक कारोबारी ने करीब 10 करोड़ रुपए के धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई है. इंदिरानगर इलाके के कारोबारी नवीन कुमार ने फ्लिपकार्ट के खिलाफ 12 हजार 518 लैपटॉप की आपूर्ति के एवज में भुगतान नहीं कर धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कराया है. सचिन और बिन्नी के अलावा कंपनी के तीन अन्य वरिष्ठ कर्मचारियों को भी नामजद आरोपी बनाया गया है.

इंदिरानगर पुलिस ने नवीन कुमार की शिकायत के आधार पर 21 नवम्बर को शिकायत दर्ज की थी. हालांकि, फ्लिपकार्ट की ओर से अभी तक इस पर कोई बयान नहीं आया है. नवीन कुमार ने शिकायत में कहा कि उनकी कंपनी ने फ्लिपकार्ट के साथ बिग बिलियन डेज सेल के लिए करार के तहत जून 2015 से जून 2016 के बीच 14 हजार लैपटॉप की आपूर्ति की थी. शिकायत में कहा गया है कि बाद में कंपनी ने 1482 लैपटॉप वापस लौटा दिए लेकिन बाकी बचे लैपटॉप के लिए भुगतान नहीं किया.

फ्लिपकार्ट की 850 मिलियन की पेशकश को स्नैपडील ने ठुकराया

जब पैसा लौटाने के लिए कहा गया तो फ्लिपकार्ट ने 3909 लैपटॉप लौटाने झूठा दावा किया. शिकायतकर्ता का दावा है कि बकाया का भुगतान नहीं कर उसे 9 करोड़ 96 लाख 21 हजार 492 करोड़ रुपए का धोखा दिया. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही है. इंदिरानगर पुलिस ने कहा कि आईपीसी की धारा 34 (कॉमन इंटेट), 406 (क्रिमिनल ब्रीच ऑफ ट्रस्ट) और 420 (धोखाधड़ी) के तहत केस रजिस्टर कर लिया गया है और जांच शुरू है.

नवीन कुमार ने अपने FIR में सचिन बंसल और बिन्नी बंसल का नाम दर्ज कराया है. सचिन बंसल एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर, इन्टरनेट उद्यमी और भारत के बड़े ई-कॉमर्स औद्योगिक संस्था फ्लिपकार्ट के संस्थापक हैं. सचिन मूल रूप से चंडीगढ़ के हैं. इन्होने साल 20017 में अपने दोस्त बिन्नी बंसल के साथ फ्लिपकार्ट की स्थापना की. आज फ्लिपकार्ट देश की बड़ी कॉमर्स कंपनी बन चुकी है.

About Md. Saheb Ali 2588 Articles
Md. Saheb Ali