अप्रैल से बदलने लगेगा गांधी सेतु का लुक, पटना पहुंचने वाला है पहले स्पैन का सामान

लाइव सिटीज डेस्कः गांधी सेतु पर एक लेन का नया सुपर स्ट्रक्चर लगाने का काम अप्रैल से शुरू होगा. इसके लिए जनवरी से ही कोलकाता में अलग-अलग भाग में सामग्री बनने लगेगी. मार्च में पहले स्पैन की सामग्री पटना पहुंच जाएगी, जिसे असेम्बल कर अप्रैल से लगाने का काम शुरू हो जाएगा. इसी बीच पुल को तोड़ने का भी काम चलता रहेगा. गांधी सेतु पर वाहन परिचालन की नई व्यवस्था, नियम तोड़ा देना होगा 6 सौ रुपये जुर्माना

पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा के साथ केन्द्रीय रोड मंत्रलय के अधिकारियों ने बुधवार को गांधी सेतु का निरीक्षण किया और हाजीपुर में निर्माण एजेंसी के कैंप कार्यालय में समीक्षा बैठक की. बैठक में निर्माण एजेन्सी के अधिकारियों ने यह आश्वासन दिया. प्रधान सचिव ने प्रगति पर असंतोष जताया. साथ ही हर हाल में अगले सात दिसम्बर तक एक लेन का काम पूरा करने का निर्देश दिया.



निर्माण कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वह संसाधन बढ़ाकर काम में तेजी लाए. साथ ही सभी अवयवों की डिजाइन जल्द प्रस्तुत करें, ताकि उसकी स्वीकृति दी जा सके. निरीक्षण टीम में मंत्रलय के एडीजी बीएन सिंह, क्षेत्र पदाधिकारी राजेश कुमार और विभाग के मुख्य अभियंता अवधेश कुमार थे. अधिकारियों ने बताया कि 15 जनवरी से पुल को तोड़ने का सिलसिला पानी में प्रवेश करेगा. उसके बाद उन स्पैनों को तोड़ने का काम शुरू होगा जिनके नीचे गंगा बह रही है.

पुल को तोड़ते समय मलबा पानी में नहीं गिरे इसका मुकम्मल इंतजाम एजेन्सी ने कर लिया है. ऐसी मशीनें मंगा ली गई हैं, जिनके सहारे मलबे को ऊपर-ऊपर ही पानी से बाहर वाले भाग में लाया जा सके. अब तक 18 स्पैन में पुल तोड़ने का काम पूरा हो चुका है और बुधवार को यह काम 19वें स्पैन में प्रवेश कर गया. बता दें कि पुल तोड़ने की शुरुआत हाजीपुर छोर से की गई है. निर्माण की शुरुआत भी उसी छोर से होगी.