जदयू राज्यसभा MP वीरेंद्र कुमार ने दिया इस्तीफा, केरल में पार्टी के प्रेसिडेंट भी हैं

वीरेंद्र कुमार, केरल जदयू अध्यक्ष (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से खटास की वजह से केरल के जदयू अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद वीरेंद्र कुमार ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. शरद गुट और नीतीश गुट को लेकर चल रही खींचतान के बीच यह बड़ी खबर मिल रही है. पहले वीरेंद्र कुमार नीतीश कुमार के काफी करीबी थे, लेकिन हाल के दिनों में नीतीश कुमार द्वारा लिये गये फैसलों से वीरेंद्र कुमार असंतुष्ट चल रहे थे.

पूर्व में भी राष्ट्रपति के एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने के फैसले को लेकर भी राज्यसभा सांसद वीरेंद्र कुमार ने विरोध जताया था. उस वक्त, राज्यसभा सांसद वीरेंद्र कुमार ने साफ कहा था कि वे एनडीए को समर्थन नहीं देंगे और उन्हें यदि इसके लिए बाध्य किया गया तो वे इस्तीफा दे देंगे. जब इस बात पर भावुक हो गए PM नरेंद्र मोदी, कहा-सब साथ छोड़कर



उन्होंने पहले भी कहा था कि वे नीतीश कुमार के फैसले से खुश नहीं हैं. वे एनडीए को समर्थन देने के व्हिप का पालन नहीं करेंगे. उन्होंने कहा था कि यदि उन्हें एनडीए को समर्थन देने के लिए बाध्य किया जायेगा तो वे इस्तीफा दे देंगे. उन्होंने अब जाकर इस्तीफा दिया. जदयू के केरल से राज्यसभा सांसद और केरल इकाई के अध्यक्ष एम.पी. वीरेंद्र कुमार ने बुधवार को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने का ऐलान किया.

कुमार ने कहा कि वो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली पार्टी के सांसद बने रहना नहीं चाहते. कुमार ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनसे इस्तीफा ना देने को कहा और ये भी कहा कि वो उन्हें देश के सबसे बड़े समाजवादी नेताओं में से एक मानते हैं. लेकिन मैंने नीतीश कुमार और पार्टी को अपने फैसले की जानकारी दे दी. जेडीयू इस समय केरल में कांग्रेस के नेतृत्व वाली विपक्षी यूडीएफ में सहयोगी है.