होटवार जेल में कैदी नंबर 3351 बने लालू प्रसाद, जानिए कौन-कौन मिले हैं पड़ोसी

लाइव सिटीज डेस्कः चारा घोटाले में दोषी करार देने के बाद राजद प्रमुख सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को फौरन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. उन्हें रांची के बिरसा मुंडा जेल भेज दिया गया. इस बार लालू को होटवार जेल में कैदी नंबर 3351 मिला है, जबकि इससे पहले जब वह 30 सितंबर, 2013 को चारा घोटाला मामले में होटवार जेल गए थे, उस वक्त उन्हें कैदी नंबर 3312 मिला था.

रांची जेल के अपर डिवीजन सेल में लालू प्रसाद के कॉटेज के बायीं तरफ झरिया विधायक संजीव सिंह का कॉटेज है. अपने ही चचेरे भाई और कांग्रेसी नेता नीरज सिंह की हत्या के आरोप में संजीव को यहां रखा गया है. लालू प्रसाद के कॉटेज की दायीं तरफ के कॉटेज में पूर्व मंत्री रमेश सिंह हत्याकांड में पूर्व मंत्री राजा पीटर बंद हैं. जेल में अविनाश हत्याकांड में सजायाफ्ता पूर्व विधायक सावना लकड़ा, कमल किशोर भगत, हरिनारायण राय भी लालू प्रसाद के पड़ोसियों में शामिल हैं. चारा घोटाला में लालू प्रसाद दोषी, जगन्नाथ मिश्रा बरी



लालू प्रसाद को जेल लाए जाने के बाद उनके बेटे तेजस्वी यादव ने भी जेल प्रशासन से अंदर आने की अनुमति मांगी थी. तेजस्वी ने जेल प्रशासन से अनुरोध किया था कि उनके पिता बुजुर्ग हैं, तबीयत भी ठीक नहीं रहती, ऐसे में उन्हें मिलने की अनुमति दी जाए. जेल प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद तेजस्वी जेल के अंदर आए. अंदर आने के बाद कुछ देर वह लालू प्रसाद के साथ रहे, हालांकि शाम ढ़लने के बाद लालू प्रसाद ने तेजस्वी से अपने अंदाज में कहा- जा बबुआ बहुत टाइम भ गईल बा. जिसके बाद तेजस्वी जेल परिसर से बाहर निकले.

लालू प्रसाद के कमरे में एक पुरानी टीवी है. इस टीवी में केबल का कनेक्शन नहीं होगा. ऐसे में लालू प्रसाद यादव सिर्फ दूरदर्शन देख पाएंगे. मांगने पर अखबार व किताबें भी दी जाएंगी. लालू प्रसाद के कमरे में एक चौकी लगी है. तकिया, मच्छरदानी, रजाई, गद्दा वगैरह भी अपर डिवीजन सेल के कैदियों के सुविधाओं के अनुसार मुहैया कराया जाएगा. लालू प्रसाद के कमरे में एक किचन भी है. जहां वह अपने पसंद से जेल के कुक से खाना बनवा सकते हैं.