जेल में बिगड़ी लालू प्रसाद की तबियत, सीने में दर्द की है शिकायत, हो रही घबराहट भी

लालू प्रसाद (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्कः चारा घोटाला मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद के फिर से जेल जाने के बाद से ही उनकी तबियत कुछ ठीक नहीं लग रही है. शनिवार को रांची सीबीआई कोर्ट के फैसले में दोषी करार दिए जाने के बाद जब लालू प्रसाद को होटवार जेल में ले जाया गया, तभी से उनकी बतीयत खराब चल रही थी. लालू प्रसाद ने जेल पहुंचने के बाद सीने में दर्द और घबराहट की शिकायत की थी. जिसके बाद लालू प्रसाद को देखने के लिए जेल में डॉक्टर्स की टीम भी पहुंची. उनकी जांच की गई.

वहीं सोर्सेज की मानें तो आज रविवार को भी उनकी तबियत ठीक नहीं है. हालांकि इस बीच खबर यह भी आ रही है कि लालू प्रसाद जेल में ठीक से हैं. उन्होंने हर रोज की तरह आज भी अपनी मॉर्निंग की शुरूआत अखबार पढ़ने से की. लालू प्रसाद जेल में रहकर भी बिहार और देश की खबरों से अपडेट रहने की कोशिश कर रहे हैं. होटवार जेल में कैदी नंबर 3351 बने लालू प्रसाद, जानिए कौन-कौन मिले हैं पड़ोसी



बता दें कि लालू को होटवार के बिरसा मुंडा जेल में रखा गया है. जेल में लालू की पहचान कैदी नम्बर 3351 के तौर पर होगी, उन्हें यही नम्बर मिला है. उन्हें अपर डिविजनल सेल में रखा गया है. इस सेल में लालू के पड़ोसी झारखण्ड के पूर्व मंत्री राजा पीटर बने. इसके अलावा आजसू के पूर्व विधायक कमल किशोर और झरिया से विधायक संजीव सिंह भी लालू के पड़ोसी हैं.

उधर जानकारी मिल रही है कि होटवार में बिरसा मुंडा जेल के बाहर राजद कार्यकर्ताओं ने डेरा जमा रखा है. भारी संख्या में राजद समर्थक जेल के बाहर इकट्ठा हैं. वहीं लालू की तबियत खराब होने की खबर मिलते ही राजद समर्थकों में चिन्ता भी देखी जा रही है. लालू प्रसाद जिन्दाबाद के नारे भी बुलंद किए जा रहे हैं.

मालूम हो कि चारा घोटाले के एक मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद सहित 16 लोगों को शनिवार को दोषी ठहराने वाली सीबीआई अदालत ने फैसला सुनाते हुए नसीहत के लहजे में कहा कि दोषियों को जेल में जाकर शांतिपूर्वक आत्मचिंतन करना चाहिए. विशेष सीबीआई अदालत के न्यायाधीश शिवपाल सिंह ने अपना फैसला सुनाने के बाद न्यायिक हिरासत के कागजात तैयार किये जाने के दौरान यह टिप्पणी की. अब इस मामले में 3 जनवरी को सजा का एलान होगा.