मुंबई में लगी भीषण आग में 15 की मौत, आंकड़ा अभी और भी बढ़ सकता है

लोअर परेल के कमला मिल कंपाउंड

लाइव सिटीज डेस्कः मुंबई के लोअर परेल के कमला मिल कंपाउंड के मोजोस लाउंज में भीषण आग की वजह से 15 लोगों की मौत हो गई है. ये आंकड़ा और बढ़ सकता है. मरने वालों में ज़्यादातर 22 से 30 साल के लोग हैं. हादसे में 12 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं. घायलों को किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल और केईएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है. LPG सिलेंडर को लेकर मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब हर महीने रसोई गैस

मुंबई में लगी आग की तस्वीर

बताया जा रहा है कि आग बीती रात 12:30 बजे के क़रीब कंपाउंड के 2 रेस्टोरेंट में लगी. देखते ही देखते आग ने भीषण रूप ले लिया. आग इतनी भीषण थी कि दमकल की 8 गाड़ियों और 6 वाटर टैंक को आग पर क़ाबू पाने में 2 घंटे से ज़्यादा का समय लग गया. जिस समय आग लगी, उस समय 50 लोग रेस्टोरेंट में मौजूद थे.



ऊपरी मंजिल में लगी है आग

कमला मिल कंपाउंड में कई कॉरपोरेट दफ़्तरों के अलावा कई न्यूज़ चैनलों के दफ़्तर भी हैं. आग की वजह से उनका प्रसारण भी रोक दिया गया है. आग लगने की वजह अभी साफ़ नहीं है. मोजो मेस्त्रो रेस्टोरेंट के मालिक के ख़िलाफ़ ग़ैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है. आपको बता दें कि कमला मिल्स परिसर से कई समाचार चैनल भी संचालित होते हैं. आग से उनके उपकरणों को नुकसान न हो इस लिए उन्होंने अपने ब्रॉडकास्ट को भी बंद कर दिया गया है.

आग बुझाने में जुटे दमकल कर्मी

पुलिस अधिकारी एस जय कुमार ने कहा कि अभी तक आग के कारणों का पता नहीं चला है. उन्होंने कहा हमने जांच शुरू कर दी है. इकके बाद ही कुछ साफ बता पाएंंगे. शिवसेना सांसद सुनील शिंदे भी घायलों के देखने अस्पताल पहुंचे और पूरी घटना की ठीक से जांच की मांग की है. उन्होंने रेस्ट्रोरेंट का लाइसेंस जारी करने पर भी सवाल किया.

आग बुझाने में जुटे दमकल कर्मी

उन्होंने मीडिया से बातचीत में पूछा, किसने उनको लाइसेंस दिया. वह भी इस घटना के जिम्मेदार हैं.’ वहीं शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने सिविक बॉडी के आयुक्त से बात की है और बाद में उन्होंने ट्वीट किया कि ऐसी जगहों में आग से सुरक्षा के क्या इंतजाम किए गए हैं इसकी जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाए.