BIG BREAKING : पटना यूनिवर्सिटी के कुलपति के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर

लाइव सिटीज, पटना डेस्कः पटना यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. रासबिहारी सिंह के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है. कुलपति के साथ-साथ पॉक्टर के खिलाफ भी याचिका डाली गई है. दरअसल पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ यूनियन (पुसु) के नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्‍यांशु भारद्वाज और उपाध्यक्ष योशिता पटवर्धन का निर्वाचान मंगलवार को रद कर दिया गया था. इसी मामले में दिव्‍यांशु भारद्वाज ने यह याचिका डाली है. बोलीं राबड़ीः CBI के पास नहीं है कोई सबूत, फंसाया जा रहा है लालू परिवार को

बता दें कि इससे पहले निर्वाचन रद होने की खबर मिलते ही समर्थकों का हंगामा शुरू हो गया था. प्रशासनिक भवन के सभी गेट बंद कर परिसर को पुलिस छाबनी में तब्दील कर दिया गया था. घंटों पदाधिकारी और कर्मी अपने-अपने कक्ष में बंधक बने रहे थे. इस मामले के बाद कुलपति प्रो. रासबिहारी सिंह ने बताया था कि यूनियन के पांच में से तीन पदाधिकारियों की डिग्री की जांच के लिए बनी तीन सदस्यीय कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की गई.

उन्होंने कहा था कि चुनाव के लिए बनी नियमावली के अनुसार नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज और उपाध्यक्ष योशिता पटवर्धन का नामांकन वैध नहीं पाया गया है. मो. अजसद उर्फ आजाद चांद पर एकेडमिक एरियर का पालन नहीं करने का आरोप था, जिसे जांच कमेटी ने खारिज कर दिया है. दिव्यांशु भारद्वाज को एक ही सेशन में दो विश्वविद्यालयों में नामांकन का दोषी पाया गया है. जिसके आधार पर उनका पीजी में नामांकन भी रद करने की कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि योशिता पटवर्धन पार्ट वन में फेल थी, नामांकन के दौरान पार्ट टू में वह प्रमोट छात्रा हैं. नियमावली के अनुसार प्रमोट विद्यार्थी छात्रसंघ चुनाव नहीं लड़ सकते हैं. इसके आधार पर उपाध्यक्ष का नामांकन रद किया गया है. मालूम हो कि अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की अनुपस्थिति में महासचिव छात्रसंघ यूनियन का नेतृत्व करेंगे. उन्होंने कहा कि निर्णय पर किसी पुसु पदाधिकारी या विद्यार्थी को आपत्ति है तो वह कुलाधिपति और हाईकोर्ट में अपील करने के लिए स्वतंत्र हैं.

About Md. Saheb Ali 4741 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*