नालंदा : गुस्साये यादव जी ने महेश ठाकुर से थूक चटवाया,चप्पलों से पीटा

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में दबंगों ने एक बार फिर अपनी हरकत से राज्य को शर्मसार कर दिया है. नालंदा जिले में एक दबंग सरपंच ने 54 साल के एक गरीब को ऐसी सजा दी जिससे मानवता शर्मसार हो गई. उसकी गलती इतनी थी कि वह बिना दरवाजा खटखटाए सरपंच के घर में दाखिल हो गया.

घटना बिहार के नालंदा जिले के नूरसराय प्रखंड अंतर्गत अजयपुर पंचायत की है. जहां 54 साल के व्यक्ति महेश ठाकुर का सरपंच के घर में बिना दरवाजा खटखटाए प्रवेश करना काफी महंगा पड़ गया.  उस गरीब की गुस्ताखी पर सरपंच और उसके परिवार ने बेरहमी दिखा दी. पहले तो घर की महिलाओं ने उसे चप्पलों से पीटा. फिर उस गरीब को थूकने को कहा गया. और दोबारा उस थूक को उसे चाटने को  भी मजबूर किया गया.

न्यूज एजेंसी एएनआई ने इस घटना की तस्वीर जारी की है, जिसमें  महेश ठाकुर  ढेर सारी  चप्पलों के पास थूक को चाटते हुए दिख रहा है. उस व्यक्ति की गलती बस इतनी ही थी कि वह घर का दरवाजा खटखटाए बिना ही अंदर चला गया. इसके साथ ही महिलाओं ने उसकी चप्पलों से पिटाई भी की.

महेश ठाकुर नाम के इस व्यक्ति को तालिबानी सजा देने वाले दबंग सरपंच का नाम सुरेंद्र यादव है. नालंदा जिले के डीएम त्यागराजन ने  मीडिया को बताया कि महेश ठाकुर बुधवार की रात सरपंच के घर खैनी मांगने के लिए गया था. उस वक्त घर में कोई पुरुष मौजूद नहीं था.

इस घटना के  अगले दिन दोपहर को पंचायत बुलाई गई. पंचायत में तालिबानी फरमान जारी करते हुए पहले थूक चाटने की सजा सुनाई गई. दबंगों के भय से पीड़ित ने जमीन पर थूक फेंककर चाट लिया. फिर पीड़ित को महिलाओं द्वारा चप्पल से पिटवाया गया.

पुलिस की मानें तो सजा 25 चप्पल मारने की दी गई थी. लेकिन बाद में घटा कर इसे 5 चप्पल कर दिया गया था. नालंदा डीएम ने एसडीओ सुधीर कुमार को मौके पर घटना की विस्तृत जानकारी लेने को भेजा. जिसमें पीड़ित ने यह कन्फर्म किया कि वह बिना दरवाजा खटखटाए सरपंच के घर घुस आया था. बता दें कि पीड़ित नाई समुदाय से आता है.

वहीं, इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो किसी ने मोबाइल से शूट कर लिया. वीडियो वायरल होने के बाद इलाके में खलबली मच गई है. वीडियो वायरल होने पर बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा है कि ऐसी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. वहीं सरपंच के परिजनों का आरोप है कि महेश ठाकुर गंदी नीयत से घर में घुसा था.