स्वतंत्रता दिवस की खुशियों के बीच नालंदा में बम विस्फोट, जख्मी लोगों को PMCH रेफर किया

नालंदा, संतोष कुमारः एक तरफ जहां देश 72वां स्वतंत्रता दिवस पर खुशियां मना रहा है वहीं दूसरी ओर बिहार में बड़ा हादसा हुआ है. बिहार के नालंदा जिले में बम ब्लास्ट हुआ है. घटना के बाद से ही इलाके में अफरा तफरी का माहौल हो गया है. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. बताया जा रहा है कि इस बम ब्लास्ट की चपेट में बच्चे भी आए हैं.

बिहार शरीफ शहर के सटे रहुई थाना क्षेत्र के खाजे एतवार सराय गांव में हुए बम विस्फोट में चार बच्चे जख्मी हो गए. इन बच्चों में एक गम्भीर रूप से जख्मी है जिसे बिहार शरीफ सदर अस्पताल के चिकित्सक ने बेहतर इलाज के लिये पीएमसीएच (पटना) रेफर कर दिया है. धमाका इतना जोरदार था कि उसकी आवाज एक किलोमिटर दूर सुना गया. घटना के बाद पुलिस विस्फोट वाले स्थल को अपने कब्जे में ले लिया है.

मिल रही जानकारी के मुताबिक बम की चपेट में चार लोग आ गये. विस्फोट की इस घटना में एक युवक का हाथ भी उड़ गया. घटना के बाद सभी को ग्रामीणों ने आनन-फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल बिहारशरीफ भर्ती कराया है. जहां उनका इलाज चल रहा है. घटना के बाद स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच में जुट गई है.

बताया जा रहा है कि घायलों को पीएमसीएच (पटना) रेफर कर दिया गया है. धमाका इतना जोरदार था कि उसकी आवाज एक किलोमिटर दूर तक सुनाई दी. पुलिस ने मीडिया से बातचीत में बताया कि और भी बमों की मिलने की संभावना है.

जिस घर में बम फटा है उसी घर में चार बम और जिंदा होने की बात बताई जा रही है. पुलिस इलाके के लोगों से पूछताछ कर रही है. जानकारी जुटाई जा रही है. इस मामले में फिलहाल किसी भी व्यक्ति की गिरफ्तारी की बात सामने नहीं आ रही है. हालात ठीक नहीं होने की वजह से इलाके में भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है.

क्या कहते हैं ग्रामीण

ग्रामीणों की माने तो विस्फोट स्थल व उसके आस पास और बम छिपाकर रखा गया है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गांव में हजारी जमादार की मौत के बाद उनका श्राद्ध होना था. इसके लिए एक सम्बंधी का पुराना मकान जो हाल में उसने खरीदा था उसकी साफ सफाई करने में बच्चे जुटे थे. ताकि श्राद्ध कार्य में आने वाले परिवारों को बेहतर ठहराव हो इस बीच करीब 30-40 वर्ष पुराने मकान में मलवा हटाने के दौरान जोरदार विस्फोट हो गया.

इस घटना में सीताराम जमादार का 16 वर्षीय पुत्र गौतम कुमार का बायां हाथ उड़ गया जब कि विजेंद्र जमादार के 15 वर्षीय पुत्र विक्की कुमार को सर और हाथ जख्मी हुआ. इस घटना में दो अन्य बच्चों को भी आंशिक चोंटे आयी है. घटना की सूचना पा कर विधान पार्षद रीना यादव के प्रतिनिधि सह जदयू नेता मो. एखलाख अहमद बिहार शरीफ सदर अस्पताल पहुंच कर न सिर्फ घायलों का हाल चाल लिया बल्कि घायलों के इलाज में भी मदद की पुलिस मामले की जांच करने में जुटी है