बिहार राज्य परिवहन विभाग ने लोगों की सेवा कर सराहनीय कार्य किये हैं, परिवहन सचिव संजय अग्रवाल गिनाई उपलब्धियां

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार राज्य परिवहन विभाग ने लोगों की सेवा कर सराहनीय कार्य किये हैं. विभाग के सचिव 2020 में किए गए कार्यों को बेहतर बता रहे हैं. राज्य के परिवहन सचिव संजय अग्रवाल का कहना है कि लॉकडाउन में स्पेशल ट्रेनों से बिहार पहुंचने वाले लाखों लोगों को राज्य परिवहन विभाग की बसों ने घरों तक पहुंचाया. जो विभाग की सबसे बड़ी चुनौती थी.

विभाग को थी बड़ी चुनौती



इस साल बिहार सरकार के कुछ विभागों पर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी थी. कोरोना काल में लाखों लोग बिहार वापस लौट रहे थे. लिहाजा सरकार के लिए सभी को घरों तक पहुंचाना बड़ी चुनौती है. राज्य परिवहन विभान ने जिम्मेदारियों को निवर्हन करते हुए करीब 25 से 30 लाख लोगों को वक्त पर घरों तक पहुंचाया.

हर एक दिन चलती थी 7000 बसें

परिवहन सचिव का दावा है कि कोरोना काल में 25 से 30 लाख लोगों को बसों से घरों तक पहुंचाया गया है. विभाग के पास अपनी बसों की भारी कमी थी. लेकिन जिम्मेदारियों को निभाते हुए विभाग ने प्राइवेट और स्कूल बसों को किराये पर लेकर हर एक 7000 बसें चलाई. जिससे लाखों लोग अपने-अपने घर तक पहुंच पाए.

मुश्किल घड़ी में विभाग ने की मदद

मुश्किल परीक्षा की घड़ी से गुजरते हुए परिवहन विभाग ने हर स्टेशन पर बड़ी संख्या में बसें उपलब्ध कराई. परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने इस वर्ष की यादें ताजा करते हुए बताया कि लाखों की संख्या में बिहार से बाहर रह रहे लोगों के लिए रेलवे से इजाजत लेकर विशेष ट्रेनों का इंतजाम किया गया. जब इन ट्रेनों से बड़ी संख्या में लोग बिहार पहुंचे तो उन्हें स्टेशन से ही बिल्कुल मुफ्त बस की सुविधा उपलब्ध कराई गई और वह भी उनके घर तक.