बिहार पर भी मंडराया चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ का खतरा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बुधवार को उड़ीसा के पारादीप और बालासोर में तेज हवा और बारिश के साथ चक्रवाती तूफान आया. इस तूफान को चक्रवाती तूफान अम्फान बताया जा रहा है. मौसम विभाग के अनुसार यह उत्तर-पश्चिमी खाड़ी, पारादीप से लगभग 125 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में अम्फान आज सुबह 6:30 बजे अत्यंत भयंकर चक्रवाती तूफान के रूप में केंद्रित था. मौसम विभाग के अनुसार तूफान की वजह से प्रदेश के पूर्वी दिशा में बारिश, आंधी-तूफान और खराब मौसम के भी आसार बने हुए हैं. साथ ही कई जिलों में आंधी-तूफान गरज के साथ बारिश होगी.


वहीं, नार्थ वेस्ट बिहार और नार्थ सेंट्रल में भी 22-23 मई को ईस्ट चंपारण, सिवान, सारण, वेस्ट चंपारण, गोपालगंज, सीतामढ़ी मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, किशनगंज, सहरसा, पूर्णिया, पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, बेगूसराय, लखीसराय, नवादा में आंधी-तूफान के साथ बारिश के आसार बने हुए हैं. पश्चिम बंगाल बॉर्डर से लगे बिहार का किशनगंज जिले में तूफान का अत्यधिक असर देखने को मिल सकता है.

मौसम विभाग ने किया अलर्ट

वहीं, अम्फान चक्रवाती तूफान का प्रदेश के नार्थ ईस्ट जिलों सुपौल, अररिया, मधेपुरा, किशनगंज, सहरसा, पूर्णिया के साथ ही बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, जहानाबाद, और अरवल पर प्रभाव पड़ने की संभावना है. साथ ही बिहार के कई अन्य जिलों में भी अम्फान का खतरा बना हुआ है. विशेषज्ञों के अनुसार बुधवार को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तट पार करने का अनुमान है. जिस वजह से मौसम विभाग ने पहले ही अलर्ट जारी कर रखा है.