बिहार विधानसभा में कोरोना..कोरोना..कोरोना ! सरकार और विपक्ष में छिड़ी बड़ी बहस

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार को जहां अलर्ट पर रखा गया है तो वहीं अब बिहार विधानमंडल के बजट सत्र में भी हाहाकार मचा है. एक ओर जहां नेता सदन में मास्क लगाकर पहुंच रहे हैं तो वहीं विपक्ष सरकार को नसीहत देने में जुटा हुआ है. विपक्ष कह रहा है पूरे बिहार में सरकार को मास्क बंटवाना चाहिए. वहीं सत्ता में बैठे लोग भी सतर्क रहने की सलाह देने में जुटे हुए हैं.

बिहार विधान परिषद के सदस्य सच्चिदानंद राय आज मास्क लगाकर पहुंचे. उन्होंने कहा कि सावधान रहने और बचने की जरूरत है. उन्होंने आगे कहा कि अगर किसी भी व्यक्ति को खांसी-सर्दी हो तो उससे दूरी बनाकर रखने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि सभी तरह के प्रचार और बचने के तरीके मीडिया में हैं. उनको देखना है और समझना भी है. मैने सदन के माध्यम से भी ध्यान खींचने के लिए मास्क लाया. क्योंकि बिहार में इसकी बहुत जरूरत है कि किस तरह से लोगों के बीच जागरुकता फैलाई जाए.



इधर कांग्रेस के शकील अहमद खान ने कहा है कि बिहार सरकार को सही कदम उठाना चाहिए. उन्होंने विधानसभा में मीडिया से बात करते हुए नीतीश सरकार पर निशाना साधा. शकील अहमद ने कहा कि बिहार के लोगों के पास रुमाल खरीदने तक के पैसे नहीं हैं. तो फिर वो मास्क कहां से खरीद पाएंगे. उन्होंने कहा कि सरकार को प्रदेश में मास्क बंटवाना चाहिए. तब जाकर इस महामारी पर रोक लग सकेगी.

वहीं बिहार सरकार के मंत्री विजय सिन्हा ने लाइव सिटीज से बातचीत में बताया कि हम प्रदेश में कोरोना वायरस को फैलने नहीं देंगे. बिहार के लोग योग से कोरोना वायरस को मात दे देंगे. उन्होंने कहा कि बीमारी फैलने से पूरा देश प्रभावित होता है. लेकिन हमारे पास कई तरह की चिकित्सा है. हमारे पास योग है. हम बिहार में इस बीमारी को फैलने नहीं देंगे.