पीएम मोदी के मंत्री ने कहा- हमारी सरकार नहीं बना सकती राम मंदिर

लाइव सिटीज डेस्क : देश में राम मंदिर का मुद्दा हमेशा से ज्वलंत रहा है. इस मुद्दे को लेकर कितनी बार सियासत साधी गई है. कई नेताओं ने राम मंदिर के नाम पर वोट पाया है. लेकिन भाजपा सरकार में एक केंद्रीय मंत्रीने राम मंदिर को लेकर ऐसा बयान दे दिया है. जिससे राम मंदिर निर्माण का सपना देख रहे लोगों को तगड़ा झटका लग सकता है. उत्तर प्रदेश के अध्योध्या में राम मंदिर को लेकर यह बयान केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने दिया है.

नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, उन्होंने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राम मंदिर के नाम पर कभी भी चुनाव नहीं लड़ा है. सरकार राम मंदिर नहीं बना सकती है. मंत्री की मानें, तो भगवान राम हमारे साथ रहे हैं. मंदिर बनाने के लिए कोर्ट और आपसी समझौते से कोई फैसला निकलेगा, तब जाकर राम मंदिर बनेगा. 

बता दें कि बुधवार को शिव प्रताप शुक्ल उत्तर प्रदेश के बस्ती आए हुए थे. मुड़घाट पर उन्होंने इस बारे में कहा कि विकास दर हमेशा बढ़ती और घटती रहती है. देश में यह पहली दफा नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) लागू हुए तीन महीने हुए हैं, जिसके आधार पर धीरे-धीरे देश में बदलाव हो रहा है. अब पूरा विश्व भी भारत के उस फैसले का लोहा मान रहा है.

वहीं यूपी सरकार ने हाल में अयोध्या के सरयू तट पर भगवान राम की 108 फीट ऊंची भव्य प्रतिमा स्थापित कराने का एलान किया है. इसके लिए राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) से अनुमति मिलना बाकी है. मंजूरी मिलते ही, इसका काम शुरू कर दिया जाएगा. राज्य के पर्यटन विभाग ने भी राज्यपाल को इस मामले से जुड़ी एक प्रेजेंटेशन में इस बाबत सूचना दी है.

यह भी पढ़ें-

करवाचौथ पर Lover को दें Princess Cut Diamond, चांद बिहारी ज्वैलर्स लाए हैं नया कलेक्शन

स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry

अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)