चुन-चुनकर बागी नेताओं पर कार्रवाई कर रही बीजेपी, अब इन 8 नेताओं को पार्टी से बाहर निकाला…

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  2020 का चुनाव हर कोई लड़ना चाहता है. चाहे पार्टी से टिकट मिले या ना मिले. ऐसे बागी नेता की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है. हर दल में बागी नेताओं की फेहरिस्त लंबी होती जा रही है. बीजेपी में तो बागी नेताओं की लिस्ट 38 तक पहुंच गयी है. आज फिर बिहार बीजेपी ने पार्टी के 8 बागी नेताओं पर कार्रवाई की है.

इन सभी को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में 6 साल के लिए निष्कासित किया गया है. इन नेताओं में रक्सौल के विधायक अजय सिंह और बगहा के विधायक राघव शरण पांडेय का नाम भी शामिल हैं. इन सभी के अलावा एक पूर्व सांसद और चार पूर्व विधायकों को भी निष्कासित कर दिया गया है.



जिन नेताओं पर कार्रवाई की गयी है उनमें सुगौली के पूर्व विधायक विजय प्रसाद गुप्ता, रक्सौल विधायक अजय कुमार सिंह, कस्बा के पूर्व विधायक प्रदीप दास, बगहा विधायक राघव शरण पांडेय, कटिहार के बरारी से पूर्व विधायक विभाष चंद्र चौधरी, सुपौल के पूर्व सांसद विश्व मोहन कुमार, सुपौल के पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्ना और शाहपुर क्रीड़ा प्रकोष्ठ के सह संयोजक राकेश ओझा का नाम शामिल है.

बता दें कि बीजेपी में बागियों की लिस्ट धीरे-धीरे लंबी होती जा रही है. शुक्रवार को भी तीन नेताओं पर पार्टी की ओर से कार्रवाई की गयी थी. इसके पहले पार्टी ने 9 नेताओं को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था.

इसके अलावे पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने को लेकर छह नेताओं को पार्टी से निलंबित कर दिया था. जिसमें दो विधायक शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा और व्यास देव प्रसाद समेत तीन पूर्व विधायक और एक पूर्व विधान पार्षद के नाम शामिल हैं.

प्रथम चरण की सीटों पर भाजपा ने 9 प्रमुख पार्टी नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया था. ये वो लोग हैं जिन्होंने एनडीए के घोषित उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरकर ताल ठोक रहे हैं.