‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ पर जेडीयू-बीजेपी साथ, केसी त्यागी ने पार्टी का रूख किया स्पष्ट

केसी त्यागी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ को लेकर दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक होनी है. बैठक में शामिल होने के लिए बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी दिल्ली पहुंच गए बैठक में यह विचार किया जाएगा कि भारत जैसे देश में ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ लागू करने के लिए क्या किया जा सकता है. हालांकि कई विपक्षी दलों के प्रमुख ने इस बैठक में भाग लेने से इन्कार कर दिया है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भी बैठक में शिरकत नहीं करेंगी.

तीन तलाक पर अलग, ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ पर साथ

हालांकि तीन तलाक बिल पर बीजेपी से अलग सोच रखने वाली जेडीयू इस मामले में बीजेपी के साथ है. बिहार के सीएम नीतीश कुमार बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंच गए हैं. जेडीयू ने इस मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट कर दिया है. पार्टी के प्रधान महासचिव के सी त्यागी ने कहा कि यह बहुत आकर्षक सुझाव है और इससे फिजूलखर्ची बचेगी. वहीं बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी ने इस प्रस्ताव का विरोध किया है.

वहीं जेडीयू प्रमुख और बिहार के सीएम इस प्रस्ताव का समर्थन करते हैं. नीतीश कुमार बैठक में हिस्सा लेने दिल्ली पहुंच भी चुके हैं. जेडीयू देश में एक चुनाव के पक्ष में तो है लेकिन उसका मानना है कि ऐसा करना आसान नहीं होगा. जेडीयू का मानना है कि इसके लिए संविधान में संशोधन की जरूरत होगी जो काफी मुश्किल हो सकता है क्योंकि विपक्ष इस मुद्दे पर एकमत नहीं है.

ये भी पढ़ेंः पप्पू यादव करेंगे भूख हड़ताल

जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ के प्रस्ताव पर जेडीयू का रुख साफ करते हुए कहा कि इससे बचेगी फिजूलखर्ची बचेगी. देश में हर महीने  कहीं न कहीं चुनाव होते रहते हैं और आचार संहिता लगी रहती है. ऐसे में चुनाव उबाऊ हो जाते हैं. उन्होंने कहा कि छोटी पार्टियों के लिए तो यह बेहद मुश्किल भरा होता है. त्यागी ने देश में कई चरणों में चुनाव करवाए जाने का भी विरोध किया है.

मनोज झा ने कहा- यह अतार्किक प्रस्ताव है

बता दें कि जुलाई 2018 में जेडीयू की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भी पीएम मोदी द्वारा प्रस्तावित ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ मुद्दे का समर्थन किया गया था. उसके बाद कई बार जेडीयू इस मुद्दे पर अपना समर्थन दे चुकी है. हालांकि बिहार में प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी इस प्रस्ताव के समर्थन में नहीं है. पार्टी के सांसद मनोज झा ने कहा कि ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ बिल्कुल अतार्किक है क्योंकि एक साथ चुनाव करवाने की देश में क्षमता नहीं है. हालांकि उन्होंने कहा कि आरजेडी को इस बैठक में नहीं बुलाया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*