नित्यानंद का हमलाः लालू के ‘कुबेर धन’ को CM नीतीश का समर्थन

लाइव सिटीज डेस्क/पटना (नियाज़ आलम) : बेनामी संपत्ति के आरोपों को लेकर भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी बनाम आरजेडी की ज़ुबानी जंग में अब प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष भी उतर आए हैं. इसी क्रम में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को निशाना बनाया है.

कथित बेनामी संपत्ति को लेकर लालू परिवार के खिलाफ सुशील मोदी के खुलासे पर नीतीश खामोश हैं, इस सवाल के जवाब में राय ने कहा है मौन का सीधा अर्थ है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लालू परिवार के कुबेर धन का समर्थन कर रहे हैं. ऐसा नही होता तो अब तक कार्रवाई हो चुकी होती. इसके साथ ही उन्होंने कहा की खुद को गरीबों का हितैषी कहने वाले लालू प्रसाद आज कुबेर के ख़ज़ाने पर बैठे हैं. उन्हें तो सिर्फ इतना करना चाहिए की उन गरीबों को, जिसे भी वो मानते हैं, उनकी गौशाला में एक-एक या दो-दो गाय भैंस बांध देते. राय ने कहा की लालू यादव केवल गरीबों की बात करते हैं, वो कभी भी गरीबों के लिए कुछ नहीं करेंगे.

शहीदों के लिए थोड़ा भी सम्मान है तो नीतीश इस्तीफा दें’
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले के कारण सुकमा में शहीद हुए बिहार के जवान के शव को रोके जाने की बात का नित्यानंद राय ने कड़े शब्दों में निंदा की है. राय ने कहा कि ऐसा करने से शहीदों का और बिहार का अपमान हुआ है. ये शहीदों के सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली बात है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा की अगर नीतीश कुमार के दिल में शहीदों के लिए थोड़ा भी सम्मान बाकी है तो उन्हें नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.

उन्होंने वैशाली के शहीद अभय कुमार के परिजनों द्वारा एसडीओ के हाथ से चेक लेने से इनकार करने पर ऊर्जा मंत्री विजेंद्र यादव के बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि अपने बयान को लेकर विजेंद्र यादव शहीदों के परिजन और पूरे बिहार की जनता से माफी मांगे. उनके साथ मुख्यमंत्री और पूरा मंत्रिमंडल भी माफी मांगे.

उन्होंने ये भी कहा की बिहार सरकार पूरी तरह से असंवेदनशील ही चुकी है. उन्होंने नीतीश कुमार पर बिहार को बदनाम करने का भी आरोप लगाया. नित्यानंद राय ने महागठबंधन पर निशाना लगते हुए कहा कि नीतीश कुमार सत्ता का नशा है और यही कारण की उन्होंने सत्ता के लालच में गलत लोगों के साथ गठबंधन कर लिया.

यह भी पढ़ें-
सुशील मोदी के रिश्तेदार फर्जी कंपनियों में शामिल, कर रहे मनी लॉंन्ड्रिंग का काम
लालू खुद बताएं वो बात, नहीं तो मैं करूंगा खुलासा