लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : ब्राजील के राजदूत ए.ए गोरिया ने आज बिहार के सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की. बता दें कि ब्राजील के राजदूत बिहार के दौरे पर हैं. इस दौरान उन्होंने कल बिहार के राज्यपाल फागू चौहान से भी मुलाकात की थी. फागू चौहान से मुलाकात के दौरान उन्होंने बिहार कृषि और अर्थव्यवस्था के विकास को लेकर चर्चा की थी.

इसके बाद आज ए.ए गोरिया ने सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कृषि, बायो फ्यूल, पशु विज्ञान को लेकर साझेदारी पर चर्चा की. वहीं सीएम नीतीश कुमार ने ब्राजील से एक प्रतिनिधिमंडल को बिहार आने का न्योता भी दिया.

बता दें कि कल ब्राजील के राजदूत ने राज्यपाल फागू चौहान से शिष्टाचार मुलाकात की थी. इस दौरान उन्होंने राज्यपाल को बताया कि  कृषि वैज्ञानिकों के दल के द्वारा किए गए अध्ययन के प्रतिवेदन के आलोक में ब्राजील बिहार में कृषि विकास के क्षेत्र में पारस्परिक संवाद को इच्छुक है. राज्यपाल से मुलाकात के दौरान ब्राजील के राजदूत ए.ए. गोरिया ने कहा कि बिहार में कल-कारखानों की संख्या काफी कम है. कार्बन उत्सर्जन के लिए ये राज्य बिल्कुल ही उत्तरदायी नहीं है.

बिहार में कृषि विकास बहुत जरूरी

लेकिन दूसरे राज्यों के कारण यहां भी जलवायु पर प्रभाव पड़ रहा है. राजदूत ने कहा कि बिहार की अर्थव्यवस्था में कृषि का विकास अत्यंत महत्वपूर्ण है. वहीं, उन्होंने कहा कि ब्राजील के राष्ट्रपति की आगामी भारत यात्रा के दौरान विभिन्न राज्यों में कृषि विकास की संभावनाओं के मद्देनजर कई कार्यक्रमों पर गंभीरता से विचार किया जाएगा.

केंद्र और राज्य प्रदूषण को लेकर है गंभीर

राज्यपाल फागू चौहान ने ब्राजील के राजदूत को बताया कि केंद्र और बिहार सरकार राज्य में हो रहे जलवायु परिवर्तन के दुष्परिणामों को लेकर पूरी तरह गंभीर है. बिहार के सीएम नीतीश कुमार जल जीवन और हरियाली कार्यक्रम को जन आंदोलन के रूप में ग्रामीण क्षेत्रों में बसी जनता के बीच जन चेतना विकसित करने का भरपूर प्रयास कर रहे हैं. राज्य में बड़ी संख्या में वृक्षारोपण का कार्य हो रहा है. वहीं ब्राजील के राजदूत ने राज्यपाल फागू चौहान को बताया कि पशु संसाधन विकास के क्षेत्र में भी बिहार के साथ तकनीकी ज्ञान के आदान-प्रदान हेतु ब्राजील इच्छुक है.

पीयू में जीत गई पप्पू यादव की पार्टी, जाप के मनीष यादव बन गए नए प्रेसिडेंट