रोहतक में ‘निर्भया’ से भी बड़ी दरिंदगी : गैंगरेप के बाद युवती का सर भी कुचला, 2 दिन बाद मिली लाश

लाइव सिटीज डेस्क : देश की सुप्रीम कोर्ट ने हफ्ते भर पहले ही दिल्ली के ‘निर्भया’ गंगरेप मामले में 4 दोषियों को मौत की सजा सुनाई है. लेकिन ऐसा लग नहीं रहा कि इस सजा से हमारे समाज को कोई फर्क पड़ा है. सुप्रीम कोर्ट द्वारा सजा सुनाये जाने के हफ्ते भर के भीतर ही दिल्ली से सटे हरियाणा से एक और बर्बर गैंगरेप के बाद हत्या की खबर आ रही है.

बताया जा रहा है कि करीब 7 लोगों ने एक युवती का बलात्कार कर उसके प्राइवेट पार्ट्स को नुकीले हथियारों से जख्मी किया, फिर पहचान छिपाने के लिए उसके चेहरे को निर्दयता से कुचल दिया गया.

मिल रही जानकारी के अनुसार घटना 9 मई की है. युवती का शव रोहतक के इंडस्ट्रियल मॉडल टाउनशिप (IMT) के खाली प्लॉट से 11 मई को बरामद किया गया है. युवती की पहचान सोनीपत निवासी के रूप में हुई है. वह 9 मई से अपने ऑफिस से गायब थी जिसकी गुमशुदगी की शिकायत भी सोनीपत शहर थाने में दर्ज कराई गयी थी.

ROHTAK

फोरेंसिक एक्सपर्ट ने बताई दरिदगी की दास्तान

रोहतक पीजीआइ के फोरेंसिक विभाग के अध्यक्ष व हरियाणा सरकार के मेडिको लीगल एडवाइजर डॉक्टर एसके धत्तरवाल ने बताया है कि उनके सुपरविजन में तीन डॉक्टरों दीपेंद्र जाखड़, डॉक्टर विनोद कुमार और डॉक्टर संदीप के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया. उन्होंने बताया कि ये देखकर हमारी टीम भी सन्न रह गई.

अभियुक्तों ने दिल्ली में हुए निर्भया कांड और रोहतक में हुए नेपाली युवती हत्याकांड जैसी ही क्रूरता दिखाई है. एक्सपर्ट के अनुसार उसके सिर को या तो भारी पत्थर से या वाहन से कुचला गया है. उसके शरीर में सरिया या कोई अन्य नुकीली वस्तु भी डाली गई है.

rohtak-gangrape
फाइल फोटो

उन्होंने कहा कि दुष्कर्म करने वाले तीन से अधिक लोग है. युवती से दुष्कर्म करने से पहले उसे नशीला पदार्थ भी दिया गया था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट पुलिस को आज सौंपी जाएगी. बिसरा जांच के लिए मधुबन लैब को भेजा गया है.

मां ने जताया जाननेवाले पर शक

रोहतक पुलिस की सूचना के बाद शुक्रवार को यहां पहुंची युवती की मां ने आरोप लगाया कि करीब एक साल से कोलपुर गांव का सुमित उसकी बेटी पर शादी के लिए दबाव बना रहा था. बेटी ने इन्कार कर दिया था जिसके बाद सुमित कई साथियों के साथ एक सप्ताह पूर्व उनके घर पहुंच गया और झगड़ा करने लगा. इस पर उसकी बेटी ने उसे थप्पड़ जड़ दिया. तब सुमित ने उसकी बेटी को धमकी दी थी.

सोनीपत पुलिस ने आरोपी की हिरासत में लिया

सोनीपत शहर थाने के प्रभारी अजय कुमार ने बताया कि युवती का 9 मई को, जहां वह काम करती थी, उस दवा कंपनी के गेट से कार सवार पांच से छह युवकों ने अपहरण किया था. अभियुक्तों की कार कंपनी के सीसीटीवी में भी रिकॉर्ड है. अनुमान है कि इसके बाद अभियुक्त उसे सुनसान स्थान पर ले गए और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद हत्या कर दी.

मुख्य अभियुक्त सोनीपत के कोलपुर गांव के सुमित को पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया है. सुमित के साथ ही उसके एक और साथी से भी पूछताछ की जा रही है. वारदात की जांच रोहतक पुलिस ने अब सोनीपत पुलिस को सौंप दी है, जहां नगर थाने में ही अपहरण की एफआइआर दर्ज हुई थी.

यह भी पढ़ें :
बेतिया पहुंचे रेल राज्य मंत्री, उम्मीदें हुईं पूरी
आप की जंग : मिश्रा जी के खिलाफ झा जी ने कसी कमर
100 देशों में सायबर अटैक, अरबों कम्प्यूटर ठप