लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बुधवार की रात लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा हो गया, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे में 24 से अधिक लोग घायल भी हैं. बताया जा रहा है कि दिल्ली से मोतिहारी आ रही स्लीपर कोच बस उत्तर प्रदेश के फीरोजाबाद जिले के नगला खंगर के पास आगे खड़ी कंटेनर में जा घुसी. बस दिल्ली से मोतिहारी आ रही थी. बताया जा रहा है कि इस बस में बिहार के यात्री भी सवार थे.

बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे दिल्ली से आगरा एक्सप्रेस-वे के रास्ते स्लीपर बस बिहार जा रही थी. बस में पांच दर्जन से ज्यादा सवारियां थीं. कुछ लोग सीट पर थे और कुछ स्लीपर सीट पर लेटे थे. रात लगभग साढ़े दस बजे नगला खंगर थाना क्षेत्र में किमी 71 के पास तेज रफ्तार बस आगे खड़े ट्राला में जा घुसी.

बस संख्या यूपी 53 एफटी 4629 रात के तकरीबन 10:30 बजे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर सिरसागंज तहसील क्षेत्र में पहले से खड़े कंटेनर में जाकर टकरा गई. इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 से अधिक यात्री घायल हैं. घायलों में से सात की हालत गंभीर बताई जा रही है. सभी को पीजीआई लखनऊ शिफ्ट करवा दिया गया है.

मृतकों में फिरोजाबाद, देवरिया, दिल्ली और बिहार के अलग-अलग शहरों के लोग शामिल बताए जा रहे हैं. हालांकि, अभी सभी की शिनाख्त नहीं हो पाई है. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है. बस को क्रेन के जरिए कंटेनर से अलग किया गया है.

बस में दर्जनभर से ज्यादा यात्री फंसे थे, जिन्हें बाहर निकालने के लिए भारी मशक्कत करनी पड़ी. मौके पर पहुंचे आइजी सतीश गणेश ने 14 लोगों के मरने की पुष्टि की है. बस में लगभग 50 से ज्यादा यात्री सवार थे. कुछ लोग सीट पर थे और कुछ स्लीपर सीट पर लेटे हुए थे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव एवं  राहत कार्य सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं. साथ ही घायलों के समुचित उपचार के प्रबंध करने के भी निर्देश दिए हैं.