क्या केंद्र में जगह मिल सकती है सुशील मोदी को.

लाइव सिटीज सेंट्रल डेस्क, पटना: बिहार में भाजपा के बड़े नेता सुशील मोदी का राजनीतिक भविष्य क्या होगा. इस बात पर चर्चायें जारी है. बिहार बीजेपी की राजनीतिक के तीन दशक से धुरी बने रहे सुशील मोदी को केंद्र की राजनीति में लाने की कवायद की जा रही है. बिहार के डिप्टी सीएम पद से पत्ता कटने के बाद सुशील कुमार मोदी को दिवंगत रामविलास पासवान की जगह राज्यसभा भेजकर बीजेपी उन्हें केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में अहम जिम्मेदारी दे सकती है.


बिहार में कैलाशपति मिश्र के बाद सुशील मोदी बीजेपी के सबसे बड़े नेता रहे. पिछले 15 साल से नीतीश और सुशील मोदी की जोड़ी ने बिहार में सुशासन की नई कहानियां लिखी. लेकिन अब न सिर्फ नीतीश और सुशील मोदी की जोड़ी समाप्त हो गई.

इतना ही नहीं बीजेपी ने बिहार में सुशील मोदी की जगह नए चेहरों को जगह दी है. सुशील मोदी की डिप्टी सीएम की कुर्सी उन्हीं के वैश्य समाज से आने वाले तारकिशोर प्रसाद को सौंपी गई है. ऐसे में सुशील मोदी के सियासी भविष्य को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं. सुशील कुमार मोदी के बारे में कहा जाता है कि बीजेपी को बिहार में खड़ा करने का श्रेय उन्हीं को जाता है.

जेडीयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि सुशील मोदी बिहार के बड़े नेता हैं. सूत्रों की माने तो जल्दी ही मोदी सरकार मंत्रिमंडल का विस्तार और फेरबदल होना है. सुशील कुमार मोदी को पीएम मोदी की कैबिनेट में वित्त मंत्रालय या वाणिज्य मंत्रालय जैसी बड़ी ज़िम्मेदारी दी जा सकती है. इससे पहले मनहोर पर्रिकर को गोवा के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिलाकर केंद्र में लाकर रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई थी. इसलिए सुशील मोदी आने वाले समय में केंद्र सरकार में बड़े मंत्रालय में नजर आएं तो किसी को आश्चर्यचकित नहीं होना चाहिए.