सृजन घोटाला मामले में सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, मुख्य आरोपियों के घर कुर्की जब्ती, 2.62 करोड़ की संपत्ति जब्त

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सृजन घोटाला मामले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है. घोटाला मामले में कार्रवाई करते हुए सीबीआई ने मुख्य आरोपी के घर कुर्की जब्ती की है. जिससे घोटाले में संलिप्त आरोपियों और इससे जुड़े अन्य सफेदपोशों में हड़कंप मच गया है. सीबीआई ने मुख्य  आरोपी अमित कुमार और उसकी पत्नी रजनी प्रिया की 2.62 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली है.

दोनों आरोपियों के कीमती मकान और जमीन को जब्त कर लिया गया है. भागलपुर जिले के नाथनगर, जगदीशपुर और सबौर अंचल में कार्रवाई की गयी. मुख्य आरोपियों के घर कुर्की जब्ती के लिए सीबीआई ने पहले से ही जिला प्रशासन को सूचित कर दिया था. विभिन्न जगहों पर होने वाली कार्रवाई के लिए अलग-अलग दंडाधिकारी नियुक्त किए गए थे.



इतना ही नहीं कार्रवाई के दौरान हंगामा होने की संभावना को देखते हुए तीनों प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी के साथ भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है. इसके साथ ही एसडीओ ने कोतवाली थाना, तिलकामांझी थाना, इशाकचक थाना, जोगसर टीओपी , ओद्योगिक थाना , नाथनगर और सबौर थाना के थानेदार को संपत्ति जब्त होने के पश्चात रिसीवर के रूप में मौके पर रहने के निर्देश दिए थे.

वहीं, सबौर के अंचलाधिकारी ने कहा कि अंचल में शुक्रवार को संपत्ति जब्त करने की कारवाई होगी. जानकारी के अनुसार सृजन घोटाला में आरोपित दोनों भगोड़े पति-पत्नी की संपत्ति को जब्त करने के लिए सीबीआई के पुलिस सब इंस्पेक्टर दिवेश कुमार ने पिछले 1 अक्टूबर को जिलाधिकारी प्रणव कुमार को एक पत्र लिखा था. आरोपी अमित कुमार और रजनी प्रिया के नाथनगर, जगदीशपुर और सबौर अंचल में कुल 15 स्थानों पर तकरीबन 2.62 करोड़ की संपत्ति को जब्त कर लिया है. इसमें तीन वार्डों की भी संपत्ति को जब्त किया गया है.

जब्त इन 15 स्थानों की संपत्ति की अगर बात करें तो इसमें 8 स्थानों पर अमित कुमार और 6 स्थानों पर रजनी प्रिया की संपत्ति है. जबकि एक स्थान पर जब्त संपत्ति में अमित कुमार के एक अन्य साझेदार के होने की भी बातें सामने आयी है. जब्त संपत्ति में फ्लैट, मकान और कुछ प्लॉट शामिल हैं. इसका इन्वेंटरी भी जिला प्रशासन द्वारा तैयार करवाकर सीबीआई के सक्षम अधिकारी को भेजा जाएगा.