बिहार में खेलकूद की आधारभूत संरचना के लिए केंद्र ने दी 50 करोड़ की मंजूरी, मंत्री मंगल पांडेय ने दी जानकारी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  बिहार के कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि बिहार में खेलकूद की आधारभूत संरचना के निर्माण के लिए केंद्र सरकार ने ‘खेलो इंडिया’ योजना के अंतर्गत सूबे की 10 योजनाओं के लिए 50 करोड़ से अधिक की राशि की मंजूरी दी है.

मंत्री पांडेय ने बताया कि स्वीकृत योजना के तहत 7 जिलों में बहुउद्देशीय इंडोर हॉल, सिंथेटिक एथलेटिक ट्रैक और स्वीमिंग पुल का निर्माण किया जायेगा. स्वीकृत योजना के अंतर्गत खेलो इंडिया मार्गदर्शिका के मुताबिक भूमि व निर्माण एजेंसी का चयन तीन माह के भीतर कर लिया जाना है.



स्वीकृत योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए मंत्री ने बताया कि जिन स्थानों पर बहुउद्देशीय(मल्टीपरपस) इंडोर हॉल की मंजूरी मिली है, उनमें नवादा, भागलपुर (तिलकामांझी विश्वविद्यालय परिसर), मुजफ्फरपुर (बाबा साहब भीम राव अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय के बोटनी परिसर), छपरा में जेपी विश्वविद्यालय, पटना विश्वविद्यालय के सैदपुर परिसर में और आरा के वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय प्रमुख है. एक-एक इंडोर स्टेडियम के निर्माण पर साढ़े चार-चार करोड़ की लागत आयेगी.

पांडेय ने बताया कि इसी प्रकार पूर्णिया विश्वविद्यालय के रंगभूमि मैदान, छपरा के जेपी विश्वविद्यालय के राहुल सांकृत्यायन भवन में 7-7 करोड़ की लागत से सिंथेटिक एथलेटिक ट्रैक निर्माण की मंजूरी मिली है. भागलपुर के सबौर स्थिति बिहार कृषि विश्वविद्यालय और पटना विश्वविद्यालय के सैदपुर परिसर में स्वीमिंग पुल के लिए 5-5 करेाड़ की स्वीकृति केंद्र सरकार ने दी है.

उन्होंने बताया कि राज्य में खेल-कूद के विकास में उपर्युक्त योजनाओं के कार्यान्वयन से क्रीड़ा की विधाओं को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी और प्रतिभावान खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर पर चमकने और बिहार का नाम रोशन करने का अवसर मिलेगा.