अब सीएम रमण सिंह के मंत्री के बेटे की शादी में ड्यूटी पर सरकारी डॉक्टर, चिट्ठी वायरल

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के आवास पर IGIMS के टॉप डॉक्टरों की टीम की ड्यूटी लगाने का मामला खूब तूल पकड़ा था. भारतीय जनता पार्टी ने जम कर बवाल मचाया था. लेकिन ठीक इसी तरह का एक मामला बीजेपी शासित प्रदेश में घटित हुआ है. जिससे अब वहां की सरकार निशाने पर है. एक ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल में छपी इस खबर को बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने री ट्वीट किया है. 

मामला छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार का है, जिनके मंत्री ने सरकारी डॉक्टरों और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की एक टीम की ड्यूटी अपने बेटे की शादी में लगवाई है. मंत्री के बेटे की शादी में इस टीम की ड्यूटी से संबंधित एक चिट्ठी रायपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के दफ्तर से जारी की गई है. 

सीएमओ के इस पत्र में लिखा गया है, “विशेष सचिव माननीय मंत्री छत्तीसगढ़ शासन गृह, जेल एवं लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, नया रायपुर के पत्र क्रमांक/993/VIP, रायपुर दिनांक-14.06.2017 के द्वारा दिए गए सूचनानुसार माननीय मंत्री महोदय के ज्येष्ठ पुत्र चि. लवकेश पैकरा का वैवाहिक कार्यक्रम सिल्वर स्प्रिंग रिसॉर्ट, वीआईपी रोड रायपुर में दिनांक 18.06.2017 को सम्पन्न किया जा रहा है. अत: उक्त वैवाहिक कार्यक्रम में आवश्यक व्यवस्था से चिकित्सा दल की ड्यूटी दिनांक 18.06.2017 को रात्रि 8.00 बजे से कार्यक्रम समाप्ति तक निम्नलिखित अधिकारी एवं कर्मचारियों की लगाई जाती है.”

पत्र के मुताबिक पांच लोगों की ड्यूटी मंत्री के बेटे की शादी में लगाई गई है. उनमें डॉक्टर पंकज किशोर मिश्रा (चिकित्सा अधिकारी), मालती मदुलकर (फार्मासिस्ट), तारा साहु (स्टाफ नर्स), डी. केशव राव (कर्मचारी) और अशोक नेताम (चतुर्थ श्रेणी स्टाफ) शामिल हैं.

बता दें कि कुछ दिनों पहले बिहार में भी एक चिट्ठी वायरल हुई थी. जिसके मुताबिक यह आरोप लगाया गया था कि स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के पिता और पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की देखभाल के लिए उनके आवास पर सरकारी डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई गई थी. हालांकि लालू प्रसाद ने इस मामले में सफाई देते हुए कहा था कि डॉक्टर अस्पताल में अपनी ड्यूटी खत्म करके हमारे आवास पर आये थे.

यह भी पढ़ें-  मेरे अन्दर कृष्ण हैं-राम हैं, कोई मेरा बाल भी बांका नहीं कर पायेगा