नीतीश से फोन पर भी बात नहीं करना चाहते चिराग, सीएम ने रामविलास का हाल जानने को लगाए 10 कॉल

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सीएम नीतीश और लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान के बीच सियासी दूरियां बढ़ गयी है. यह हम सभी जान गए हैं. लेकिन दोनों के बीच व्यक्तिगत दूरियां भी बढ़ गयी है, ऐसी भी खबर आने लगी है. कहा जा रहा है कि चिराग पासवान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इतने नाराज हैं कि उनका फोन कॉल भी रिसिव नहीं कर रहे हैं.

दरअसल 4 अक्टूबर को लोजपा संस्थापक रामविलास पासवान की तबीयत अचानक ज्यादा खराब हो गयी. हालात ऐसी हो गयी कि उनके दिल का ऑपरेशन करना पड़ा. जिसकी जानकारी चिराग पासवान ने ट्वीट कर दी.



चिराग के ट्वीट के बाद केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान का हालचाल जानने के लिए सीएम नीतीश ने चिराग को कम से कम 10 कॉल किए. लेकिन उनका कॉल रिसिव नहीं किया गया.

राम विलास पासवान दिल्ली. के अस्पसताल में भर्ती हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने कई बार चिराग को फोन कर पिता की तबीयत के बारे में जानकारी ली. पीएम मोदी ने खुद डॉक्टबरों से भी बात की. इसके लिए चिराग ने ट्वीट कर इस मुश्किल घड़ी में साथ खड़े होने के लिए उनका आभार भी जताया.

बताया जा रहा है कि सीएम नीतीश से चिराग की नाराजगी एक दिन की नहीं है. हाल के दिनों में चिराग द्वारा नीतीश सरकार से संवाद करने की कोशिश की गयी, लेकिन सरकार की ओर से उनको या उनके पत्र को कोई तवज्जों नहीं दिया गया. इसको लेकर मीडिया में भी चिराग ने ये बाते कही थी.

नीट परीक्षा के मामले में चिराग मुख्यमंत्री से बातचीत करना चाहते थे. वे जानना चाहते थे कि इस परीक्षा को टालने या निर्धारित समय पर आयोजित करने के बारे में सरकार का क्या रुख है. इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री आवास में फोन किया. मुख्यमंत्री के बदले उनके एक सचिव से बातचीत हुई.

लगातार हो रही उपेक्षा से चिराग पासवान की दूरिया सीएम नीतीश से बढ़ती चली गयी. अब हालात ऐसे हो गए हैं कि दोनों एक दूसरे के सियासी दूश्मन बन गए हैं. जेडीयू के खिलाफ लोजपा ने बगावत का बिगुल फूंक दिया है. बिहार एनडीए से अलग होकर 143 सीटों पर लोजपा प्रत्याशी उतारेगी.