किसान की बदहाली को लेकर चिराग ने नीतीश को घेरा, कहा- कब सुधरेगी किसानों की हालत ये सीएम से पूछिए

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: राज्यसभा के लिए रीना पासवान को प्रत्याशी बनाये जाने का महागठबंधन के प्रस्ताव को चिराग पासवान ने दुबारा ठुकरा दिया है. इसको लेकर आज राजद नेता श्याम रजक ने भी दुबारा चिराग को ऑफर दिया और कहा कि यह सीट लोजपा की है और राम विलास की सहयोगी होने के नाते रीना पासवान को खड़ा होना चाहिए. अगर वह खड़ी होती हैं तो राजद और लोजपा पूरी मजबूती के साथ लड़ाई लड़ेगी.

लेकिन चिराग ने इस ऑफ़र को दुबारा ठुकरा दिया है. और राजद का धन्यवाद भी किया है. अपनी मां रीना पासवान के चुनाव लड़ने पर चिराग ने कहा कि उनकी मां का राजनीति से कभी भी जुड़ाव नहीं रहा है. उन्होंने कभी भी पॉलिटिक्स में अपनी रूचि नहीं दिखाई है.  



वहीं किसान के साथ हो रहे अन्याय को लेकर चिराग ने इसका जिम्मेवार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ठहराया और कहा कि 15 साल से वह इस राज्य के मुख्यमंत्री हैं ये बात बेहतर वही बता सकते हैं. बातचीत से हर चीज का हल निकाला जा सकता है. अगर सही तरीके से किसान के साथ बैठक की जाये तो उनकी समस्या भी दूर हो सकती है. उन्होंने कहा कि एक बार किसानों की और केंद्र सरकार की अक्रॉस द टेबल बातचीत होनी चाहिए.