चिराग पासवान बोले -मजबूत करना होगा एनडीए को अपना कुनबा, SP-BSP को देना होगा चुनौती

चिराग पासवान

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः उत्तर प्रदेश में जिस तरह से इतिहास दोहराया गया. समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी एक साथ आए. गठबंधन का स्वरूप देखने को मिला. अखिलेश यादव एक तरफ जहां मायावती की तारीफ करते दिखाई दिए तो वहीं बीएसपी की मुखिया मायावती ने केंद्र सरकार को जमकर लताड़ा. इस बीच एलजेपी के लीडर चिराग पासवान ने बड़ा बयान दिया है. चिराग पासवान ने कहा है कि बसपा और सपा गठबंधन मजबूत गठबंधन है. एनडीए को भी अपना कुनबा मजबूत करना चाहिए.

चिरागर पामवान ने अपने ट्विटर पर लिखा

चिहार ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि चुनावी रणनीति से बसपा-सपा गठबंधन एक मज़बूत गठबंधन है. चुनौती देने के लिए एनडीए को भी अपना कुनबा मजबूत करना चाहिए ताकि यूपी की जनता ऐसे गठबंधन को मुँहतोड़ जवाब दे सके.

चिराग आगे लिखते हैं कि बसपा-सपा का यह गठबंधन आय से ज़्यादा सम्पत्ति के मालिकों के बीच हुआ एक समझौता है. उत्तर प्रदेश में पिछले 29 साल से लगभग इन दोनो दलों की ही सरकार रही है जिसमें यूपी के लोगों को रोज़गार की तलाश में व बढ़ते अपराध के कारण सबसे ज़्यादा पलायन करना पड़ा है.

एक साथ हुए माया-अखिलेश

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी आगामी लोकसभा चुनावों में 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. अखिलेश यादव और मायावती ने शनिवार को जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा की. अखिलेश ने इस दौरान वह पल भी बताया जब उन्होंने बीएसपी से गठबंधन करने का मन बनाया था.

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन को लेकर आज तक तरह-तरह के कयास लग रहे थे, उन पर शनिवार को विराम लग गया. अखिलेश यादव और मायावती ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घोषणा की कि दोनों पार्टियां 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. मीडिया को संबोधित करते हुए अखिलेश ने उस दिन के बारे में भी बताया जब उन्होंने पहली बार बीएसपी के साथ गठबंधन करने का मन बनाया था.

About Md. Saheb Ali 4014 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*