चिराग ने पार्टी कार्यकर्ताओं के नाम लिखी एक चिट्ठी, कहा- पिता को अकेले छोड़ पटना नहीं आ सकते

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान इन दिनों अस्वस्थ्य चल रहे हैं और दिल्ली के फोर्टिस हॉस्पिटल में एडमिट हैं. इस बीच उन्होंने पार्टी के हित में लिए गए हर फैसले में बेटे चिराग पासवान का साथ दिया है. और यह भी कह दिया है कि चिराग के हर फैसले में वह खड़े हैं. इस सबके बीच चिराग ने पार्टी का अध्यक्ष होने के नाते एलजेपी कार्यकर्ताओं के नाम एक इमोशनल चिट्ठी लिखी है.

इस चिट्ठी में चिराग लिखते हैं कि बड़े साहब रामविलास पासवान की तबियत खराब है और वे कई हफ्ते से अस्पताल में भर्ती हैं. चिराग ने आगे लिखा है कि वो ऐसे हालात में अपने पिता को अकेले अस्पताल में छोड़कर पटना आना अच्छा नहीं लग रहा है.



हालांकि उनके पिता ने कई बिहार जाने के लिए कहा है. लेकिन वो बेटे हैं लिहाजा ऐसे में मेरे लिए पिता को ICU में छोड़कर पटना आना संभव नहीं है.पत्र में उन्होंने लिखा है कि अब तक गठबंधन के साथियों से ना बिहार के भविष्य को लेकर कोई बात हुई है और ना ही सीटों के तालमेल को लेकर कोई चर्चा हुई है.बिहार संसदीय बोर्ड और सांसदों की बैठक में भी इस बात को हमने कहा है.