कोरोना को लेकर नियुक्त किये गए संविदा स्वास्थ्यकर्मी की बहाली को सिविल सर्जन ने किया रदद्, देर शाम भारी हंगामा

लाइव सिटीज, अभिषेक/ मुजफ्फरपुर : विभाग में कर्मियों की बहाली हुई थी. लेकिन इस संविदा पद के बहाली में कर्मियो की नियुक्ति को लेकर पैसे का खेल होने का आरोप लगा था. जहाँ मामले में किरकिरी होने के बाद डीएम ने इस बहाली की प्रक्रिया के जांच के आदेश जारी कर दिया था. ऐसे में इस मामले में  सदर अस्पताल की हो रही फजीहत के बीच बगैर जांच के ही संविदा पर नियुक्त किये गए कर्मियो की सभी बहाली के आज अचानक सिविल सर्जन के द्वारा रदद् कर दिया गया.

देर शाम इस मामले की जानकारी मिलते ही संविदा पर नियुक्त किये गए स्वास्थ्यकर्मी सदर अस्पताल पहुचकर हंगामा कर रहे है. वहीं इस मामले पर सिविल सर्जन ने पूरी तरह चुप्पी साध ली है. सिविल सर्जन एसके चौधरी के द्वारा बहाली को रद्द कर दिया गया है उनके द्वारा जारी किए लेटर में साफ-साफ लिखा हुआ है कि कोरोना संक्रमण कम हुआ है जिसके मद्देनजर बहाली को निरस्त किया जाता है.

वहीं जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी कमल सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग में विभिन्न पदों के लिए 3 महीने के लिए बहाली  की गई थी. लेकिन आम जनता से शिकायत मिलने के बाद जांच दल का गठन हुआ और रिपोर्ट भी सौंप दी गई है.

लेकिन बड़ा सवाल उठता है कि अब तक आखिर कार्रवाई क्यों नहीं हुई अधिकारियों पर क्योंकि बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की बात सामने आ रही है हालांकि सभी नहीं इस पर चुप्पी साध रखी है अब देखना होगा कि आगे इस मामले में क्या होता है.