केसरिया में नीतीश ने खूब धोया विरोधियों को, कहा- कुछ लोग भड़काने की चक्कर में रहते हैं, फर्क नहीं पड़ता मुझे

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: आगामी बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर जनसभाओं का दौर जारी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहली सभा पूर्वी चंपारण के केसरिया में हुई. जहां उन्होंने विपक्ष पर जोरदार हमला बोला है. नीतीश कुमार ने कहा कि पहले जिनको मौका मिला, उन्होंने क्या उखाड़ लिया. उल्टा बिहार को और नर्क के रास्ते पर ला दिया.

उन्होंने कहा कि हमारे पहले लोगों को काम करने का मौका मिला, पति पत्नी ने बुरा हाल कर दिया. पहले कानून नहीं था, जंगलराज था, अपराध, नरसंहार होता था. लोगों का अपहरण होता था. 2005 से लगातार हमने बिहार की सेवा की है. बिहार में अपराध कम हो गया है. इधर- उधर करने वालों के बावजूद बिहार में अपराध अब कम चुका है. अपराध ग्राफ में बिहार अब 23वें स्थान पर आ चुका है.



सीएम नीतीश ने कहा कि पहले कारोबारियों को बिहार छोड़कर भागना पड़ा था. डॉक्टरों का अपहरण होता था लिहाजा कई बड़े डॉक्टर बिहार से पलायन कर गये थे. हमलोग जब सरकार में आये तो अपराध पर नियंत्रण किया. पहले किसी तबके का कोई सम्मान नहीं था. महिलाओं की कोई इज्जत नहीं थी. हमलोगों ने सबका विकास किया है. लेकिन इसके पहले पति पत्नी का राज था. पहले अपनी पत्नी को मुख्यमंत्री बनाया. खुद अंदर चले गए. बिहार को बर्बाद कर दिया दोनों ने.

सीएम नीतीश ने कहा कि हमने भ्रष्टाचार को बंद किया। पहले सिर्फ भ्रष्टाचार होते थे,जनता के पैसे को लूटा जाता था. उन्होंने कहा कि अपराध के मामले में बिहार 23 वें पायदान पर है. कुछ लोग ऐसे होते हैं जो इधर-उधर करते हैं. पहले किसी का सम्मान था क्य़ा, महिलाओं की इज्जत थी ? हमलोगों ने महिलाओं को पंचायतों में आरक्षण दिया. आज हर क्षेत्र में महिलायें सशक्त हो रही हैं. छात्राओं को पढ़ाने के लिए साइकिल-पोशाक योजना लागू किया. आज हाईस्कूल में छात्र से अधिक छात्रायें हैं.

आपको बता दें कि पूर्वी चम्पारण के केसरिया में नीतीश कुमार ने जेडीयू प्रत्याशी शालिनी मिश्रा के लिए वोट की अपील की है. इसके साथ ही जिताने की भी बात कही है. आज नीतीश कुमार की चार सभाएं हैं. केसरिया में उनकी सभा संपन्न हो चुकी है.