CM नीतीश ने किया सभ्यता द्वार का लोकार्पण, यह गोलघर से तीन मीटर अधिक ऊंचा है

लाइव सिटीज डेस्क : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को सभ्यता द्वार का लोकार्पण किया. गांधी मैदान के समीप स्थित सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र परिसर में इस सभ्यता द्वार का निर्माण हुआ है. इसी परिसर में उन्होंने सम्राट अशोक की प्रतीकात्मक आदमकद प्रतिमा का भी लोकार्पण किया. लोकार्पण कार्यक्रम के बाद कन्वेंशन केंद्र परिसर स्थित ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने कहा कि हमारी सबसे बड़ी पूंजी यहां का इतिहास है. कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी इसे प्राचीन बिहार के गौरवशाली इतिहास की झांकी बताया.

नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार का इतिहास गौरवशाली है. उसका सांकेतिक रूप दिखना भी चाहिए. इस भूमि और इस जगह के इतिहास को हमें याद रखना है. सकारात्मक चीजों को लेकर आगे बढऩा चाहिए। उन्होंने कहा कि आज के दिन का काफी महत्व है, क्योंकि आज सभ्यता द्वार का लोकार्पण हो गया. सम्राट अशोक की प्रतीकात्मक प्रतिमा के मूल में चंड अशोक से धम्म अशोक है.

बोले रवीश- पेट्रोल-डीजल की कीमत चुनाव के दौरान सरकार के वश में, बाद में बाजार के

बता दें कि राजधानी पटना स्थित गांधी मैदान के उत्तर में बापू सभागार और ज्ञान भवन के बीच गंगा तट पर 32 मीटर ऊंचा व 8 मीटर चौड़ा विशाल सभ्यता द्वार बनाया गया है. यह एक एकड़ भू-भाग में फैला है. सभ्‍यता द्वार गोलघर से तीन मीटर अधिक ऊंचा है. इसे पांच करोड़ रुपये की लागत से डेढ़ साल में बनाया गया. यह द्वार बिहार की गौरवगाथा सुनाने और बताने के लिए बनाया गया है. इसपर भगवान महावीर, भगवान बुद्ध और महान सम्राट अशोक के संदेश लिखे हैं.

बिहार के ऐतिहासिक गौरव को समेटे है ‘सभ्यता द्वार’ , नीतीश का ड्रीम प्रोजेक्ट बन कर तैयार

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने लेफ्टिनेंट जनरल एसके सिन्हा को याद करते हुए कहा कि उन्होंने कई बार मिलकर मुझसे पटना में इस तरह के सभ्यता द्वार बनाए जाने की बात कही थी. मुख्यमंत्री ने कहा कि बापू सभागार को लोग देखते हैं तो आश्चर्यचकित हो जाते हैं. अनोखी निर्माण शैली है. इस तरह बिहार संग्रहालय की चर्चा आज पूरी दुनिया में हो रही है. जुलाई में बेली रोड में निर्माणाधीन पुलिस मुख्यालय भवन का भी उद्घाटन हो जाएगा. मुख्‍यमंत्री ने कहा, हम केवल संग्रहालय ही नहीं बना रहे, बल्कि पीएमसीएच को वर्ल्‍ड क्लास अस्पताल बनाने की दिशा में भी काम आगे बढ़ा है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*