सिकटा में नीतीश कुमार की जनसभा, जेडीयू प्रत्याशी फिरोज अहमद के लिए मांगा वोट

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में सीएम नीतीश की चुनावी जनसभा जारी है. पश्चिम चंपारण के दो विधानसभा सीटों में नीतीश कुमार जनसभा संबोधित करने पहुंचे थे. जहां उन्होंने जेडीयू प्रत्याशी खुर्शीद उर्फ़ फिरोज अहमद के पक्ष में वोट की अपील की है. आपको बता दें कि सीएम नीतीश के चुनावी सभा का आज 16वां दिन है. जहां तीन जिलों के चार विधानसभा सीटों पर नीतीश कुमार की सभा है.

बिहार को आगे बढ़ाया. पहले अपराध की स्थिति बहुत खराब थी. शाम के बाद कोई हिम्मत नहीं करता था घर से निकलने का. कितना सामूहिक नरसंहार हुआ, अपहरण हुआ, कितने लोग भयभीत रहते थे. सब चीज से छुटकारा देकर बिहार को विकास के रस्ते पर ले जाने का प्रयास किया.



पहले पांच साल से ज्यादा दूसरे पांच साल और उससे भी ज्यादा तीसरे पांच साल काम किया है. उन्होंने कहा कि अपराध, भ्रष्टाचार और साम्प्रदायिक दंगों को बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेंगे. नयी पीढ़ी को इन चीजों के बारे में जरुर बताइयेगा. आजादी की बात पिता ने बताई है.

कुछ लोग होते हैं जो बाएं दायें करते हैं, लेकिन इसके बावजूद अपराध के मामले में बिहार 23वें स्थान पर पहुंच चुका है. राज्य की आमदनी हर साल बढ़ती जा रही है. प्रति व्यक्ति आय में भी वृद्धि. स्कूल, अस्पताल, इलाज का काम हुआ है. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की बहुत दयनीय स्थिति थी. चिकित्सकों का इंतजाम, दवाइयों का इंतजाम. मेडिकल कॉलेज बनाया गया.

हर जिले में इंजीनियरिंग, पोलटेक्निक संस्थान, पारामेडिकल संस्थान, महिला आईटीआई और जीएनएम संस्थान, हर सब डिवीज़न में एएनएम संस्थान और आईटीआई संस्थान.

गरीब गुरबा लोग के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की मदद दी गयी. जो बाहर जाकर काम नहीं कर सकते हैं उनके लिए स्वंम सहायता भत्ता दिया. पांच लाख के करेब लोगों ने इसका लाभ लिया.

कंप्यूटर पर काम करना सिखाया, बातचीत, व्यवहार करना सिखाया. महिलाओं को सरकारी सेवा में 35 प्रतिशत का आरक्षण. लोग लालटेन के सहारे रहते थे. अब हर घर बिजली पहुंचा दिया. बिजली से अब खेती होती है. हर घर शौचालय, हर घर नल का जल पहुंचाने का काम अभी भी जारी है. हर घर पक्की गली और नाली का निर्माण. सात निश्चय का काम हुआ पूरा. खुले में शौच से मुक्ति मिल जाये और पीने के लिए स्वच्छ पानी मिल जाये तो बीमारियां कम हो जाएगी. हम जो कहते हैं वो सब करते हैं. हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगवा देंगे. रोड पर स्ट्रीट लाइट लगवा दीजियेगा पूरे गांव में रौशनी ही रौशनी रहेगी.

अगर जल है हरियाली है तभी जीवन सुरक्षित है. मौका दीजियेगा तो साफ़ सफाई के लिए भी सारा इंतजाम कराएंगे. हर गांव को सड़क से जोड़े हैं. आगे मौका मिला तो हर गांव से सड़क को जोड़वा दिया जाएगा. हर के हित में काम करेंगे. जो लोग पशुओं का पालन करते हैं, उनके लिए हर तरह का उपाय किया जाएगा.

दस लाख को रोजगार क्यों, एक करोड़ को रोजगार दे दो, कहां से लाओगे. लोगों को बहकाने भड़काने के लिए इस तरह की बात कही जाती है. इन लोगों को 15 साल काम करने का मौका मिला, क्या कर लिया. हमलोगों ने 6 लाख लोगों को रोजगार दिया. कई जगह रोजगार देने का काम चल रहा है. ई सब चक्कर में मत पड़ियेगा. कहां से लाएंगे दस लाख नौकरी. कौन सा देश में, दुनिया में जो सब लोगों को सरकारी सेवा मिल जाता है. लोगों को अपने बल पर काम करना चाहिए.

कोरोना काल में फंसे लोगों को एक एक हजार रूपये का मदद दिया गया. 15 लाख लोगों को 14 दिन क्वारंटाइन में रखा गया. और सबके ऊपर पांच हजार रुपया खर्च किया गया.