उद्घाटन के बाद पहली बार नीतीश ने किया जेपी पुल पर सफर, दरभंगा के लिए निकले थे

लाइव सिटीज डेस्क (के के पाठक) : आज सूबे के मुखिया नीतीश कुमार पहली बार सोनपुर – दीघा जेपी पुल पर चढ़े. दरभंगा जाने के क्रम में नीतीश कुमार ने महात्मा गांधी सेतु से ना जा कर जेपी पुल से जाने का निर्णय किया, लगभग 11 बजे सुबह सीएम नीतीश कुमार दरभंगा के लिए एक अणे मार्ग से निकले . 

25 मिनट के भीतर वो पटना, सोनपुर पार करते हाजीपुर में प्रवेश कर गए. मालूम हो कि इस पुल का लोकार्पण नीतीश कुमार,लालू यादव और तेजस्वी यादव ने संयुक्त रूप से किया था. उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने तो उद्घाटन के पहले और उद्घाटन के दिन भी इस पुल से ही यात्रा किया था.लेकिन नीतीश कुमार पहली बार इस पुल से हो कर गुजरे.

मालूम हो कि महात्मा गांधी सेतु पर जाम का खामियाजा कई बार नीतीश कुमार को भी उठाना पड़ा है.पुल पर महाजाम की स्थिति में सीएम आवास से हाजीपुर लगभग बीस किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए हैलीकॉप्टर का प्रयोग करना पड़ा था.बहरहाल सीएम की आगमन की खबर पर सारण डीएम और एसपी अपने दल बल के साथ जेपी पुल पर जमे हुए थे. मात्र कुछ ही मिनट में सीएम का कारकेड पुल पार कर गया. 

मालूम हो कि इस पुल के उद्घाटन पर खूब राजनीति गरमाई थी.पुल के उद्घाटन कार्यक्रम को लेकर छपे कई पोस्टरों में नीतीश कुमार का नाम गायब था.वही जानकारों की माने तो नीतीश कुमार भी उद्घाटन कार्यक्रम की औपचारिकता मात्र निभाये थे और जमशेदपुर के लिए निकल गए थे.

लेकिन तेजस्वी यादव ने अपने पिता लालू यादव के जन्मदिन पर जेपी पुल के उद्घाटन की घोषणा की थी. जिस पर उन्होंने अमल भी किया.जिसे लेकर बीजेपी और राजद आपने सामने थे.इस पुल के उद्घाटन के कई राजनीतिक मतलब भी निकले थे. बहरहाल पहली बार इस पुल से गुजरने के दौरान निश्चित रूप से नीतीश कुमार को संतोष हुआ होगा.

यह भी पढ़ें-  बिहार को दो नये पुलों की सौगात, नीतीश-तेजस्वी ने किया उद्घाटन