पति- पत्नी के राज में माल कमाने के चक्कर में होता था अपहरण, भले अंदर चले जाएं: नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: खगड़िया के अलौली विधानसभा में सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने विरोधियों पर निशाना सादने का एक भी मौका नहीं छोड़ा. नीतीश कुमार ने कहा कि 15 साल पति- पत्नी का राज रहा, बिहार को नरक बना दिया. उन्होंने कहा कि पहले अपराध की कितनी घटनाएं घटती थी. लोगों का अपहरण हो जाता था, माल कमाने के चक्कर में. इन्हें जेल जाने का भी कोई डर नहीं था.

नीतीश कुमार ने कहा कि जब हमें काम करने का मौका मिला तब हमने समाज के हर तबके का विकास किया. न्याय के साथ विकास की धरा बही. पिछड़े, अति पिछड़े, अल्प संख्यक, दलित परिवारों के बच्चों को स्कूल जाने का मौका मिला. लड़कियां स्कूलों में नहीं दिखती थी. लेकिन हमने नए स्कूलों का निर्माण कराया. लड़कियों के लिए पोशाक योजना और साइकिल योजना की शुरुआत की जिससे लड़कियों को उनके माता पिता स्कूल भेजने को राजी हुए. इसके अलावा पहले प्राथमिक शिक्षा ही मिल पाती थी. जब हमने विकास किया तब हाई क्लास की पढ़ाई भी शुरू हुई.



उन्होंने आगे कहा कि कहा कि जब से काम करने का मौका मिला है, हमने बिहार के किसी भी इलाके की उपेक्षा नहीं. हर तबके के लिए हमने काम किया. इसके अलावा जो हाशिए पर थे, उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि महिलाओं के उत्थान के लिए, महादलित, अतिपिछड़ा, अल्पसंख्यक और वंचितों के उत्थान के लिए हमने काम किया है. ताकि समाज का कोई भी व्यक्ति पीछे नहीं रह सके.