‘आदरणीय श्री नीतीश कुमार जी को मुख्यमंत्री ‘मनोनीत’ होने पर शुभकामनाएं, तेजस्वी ने ऐसे तंज कसते हुए दी बधाई

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में नीतीश कुमार के 7वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही बधाई देने वालों का तांता लग गया. आरजेडी नेता तेजस्वी ने ट्वीट कर नीतीश कुमार को बधाई दी है. हालांकि वो शपथ ग्रहण समारोह में नहीं गए. इसके लिए भी आरजेडी की ओर से ट्वीट कर कारण बताया गया था. तेजस्वी के साथ महागठबंधन के घटक दलों का कोई भी नेता राजभवन नहीं गया.

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को बधाई तो दी, पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘आदरणीय श्री नीतीश कुमार जी को मुख्यमंत्री ‘मनोनीत’ होने पर शुभकामनाएं। आशा करता हूं कि कुर्सी की महत्वाकांक्षा की बजाय वो बिहार की जनाकांक्षा एवं NDA के 19 लाख नौकरी-रोजगार और पढ़ाई, दवाई, कमाई, सिंचाई, सुनवाई जैसे सकारात्मक मुद्दों को सरकार की प्राथमिकता बनाएंगे।”



इसके पहले आरजेडी की ओर से एक और ट्वीट किया गया जिसमें शपथ ग्रहण समारोह का बायकॉट करने की बात कही गयी. “राजद शपथ ग्रहण का बायकॉट करती है। बदलाव का जनादेश NDA के विरुद्ध है। जनादेश को ‘शासनादेश’ से बदल दिया गया। बिहार के बेरोजगारों,किसानो,संविदाकर्मियों, नियोजित शिक्षकों से पूछे कि उनपर क्या गुजर रही है।NDA के फर्ज़ीवाड़े से जनता आक्रोशित है। हम जनप्रतिनिधि है और जनता के साथ खड़े है”

इसके अलावे मंत्री बने मेवालाल चौधरी का फोटो लगाते हुए आरजेडी ने लिखा है कि “यह देखिए @NitishKumar का भ्रष्टाचार पर ज़ीरो टॉलरन्स। भ्रष्टाचार के चलते इस शख़्स को पार्टी से बर्खास्त करने का नाटक भी कर चुके है। बिहार के इतिहास में 30 हज़ार करोड़ के सबसे अधिक 60 घोटाले नीतीश कुमार के शासनकाल में हुए है लेकिन कुर्सी कुमार इन पर कभी मुँह नहीं खोलते।”

फिर मेवालाल चौधरी की फोटो से दूसरा पोस्ट किया गया है कि “बिहार के इतिहास में सबसे अधिक घोटालों वाले सीएम नीतीश कुमार ने सेवा की आड़ में आज मेवालाल को मंत्री बनाया जिन्होंने पहले से बहुत मेवा खाया है। ऐसे लोगों को मंत्री परिषद में नौकरी देने के लिए 2020 की भाजपा नीत नीतीश सरकार को बहुत बहुत बधाई। ऐसे देंगे ये युवाओं को 19 लाख नौकरी।”

इतना ही आरजेडी की ओर से एक और पोस्ट किया गया कि “2017 में चोर दरवाज़े से सत्ता में आयी बीजेपी ने युद्ध भी जीता था और पाखंड भी। है ना?? जनमत जनता निर्धारित करती है और जनता हमारे साथ है। पूरा देश जानता है महज़ 12270 वोटों के अंतर से 15 सीटों की डकैती हुई है।”.