‘अपनों का साथ छोड़ना नीतीश कुमार की पुरानी आदत’ चुनाव प्रचार करने बिहार आए कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने लगाया आरोप

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : महागठबंधन का चुनाव प्रचार करने बिहार आए पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने केन्द्र और राज्य सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि अपनों का साथ छोड़ना नीतीश कुमार की पुरानी आदत है. कोटा में बिहार के बच्चों को भी उनके हाल पर उन्होंने छोड़ दिया था. जिन्हें सिर्फ अपनी कुर्सी दिखती ही वो बिहार का भला नहीं कर सकता.

वहीं मुंगेर की घटना की निंदा करते हुए सचिन पायलट ने कहा कि पूरे घटनाक्रम के लिए नीतीश कुमार दोषी है. इसका जवाब प्रदेश की जनता जरूर देगी. किसी भी घटना के लिए सरकार ही दोषी होती है.



वहीं आरजेडी-कांग्रेस के चुनावी मुद्दा को लेकर उन्होंने कहा कि बिहार के युवाओं को रोजगार देने की बात जब तेजस्वी ने की तो पहले उसका उनलोगों ने मजाक उड़ाया. फिर उन्हें युवाओं की याद आयी और 19 लाख रोजगार देने की घोषणा कर दी. इनलोगों ने ना तो युवाओं के बारे में कभी सोचा और ना ही प्रदेश में विकास करने काम किया.


बीजेपी के कोरोना वैक्सीन फ्री बांटने की घोषणा पर कटाक्ष करते हुए सचिन पायलट ने कहा कि इस प्रकार की घोषणा मानसिक दिवालियापन का प्रतीक है. धर्म के नाम पर लोगों को बांटना और नफरत फैलाना बीजेपी की मंसूबा रही है.

लेकिन इसबार बिहार की जनता ने मन बना लिया है. यहां के लोगों को रोजगार वाली सरकार चाहिए, ना कि धर्म, जाति के आधार पर समाज को बांटने वाली सरकार चाहिए. पब्लिक का रूझान महागठबंदन के पक्ष में है. 10 तारीख को महागठबंधन की सरकार बनने जा रही है.