अपने दामन में झांके बिना दूसरे पर आरोप लगाना कांग्रेस की पुरानी आदत-सुशील मोदी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में कांग्रेस नेताओं के राजभवन मार्च पर पलटवार करते हुए डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने अपनी आंतरिक राजनीति से निपटने में राज्यपाल जैसे संवैधानिक पद का दुरुपयोग न कर पाने की खीझ उतारने के लिए पटना में राजभवन मार्च का फीका शो किया.

जिस कांग्रेस ने 100 बार चुनी हुई राज्य सरकारों को बररखास्त कर लोकतंत्र का अपमान और राजभवन का दुरुपयोग किया, वही आज हाजी बन रही है. राजस्थान की गहलोत सरकार न कोरोना संक्रमण रोकने में कारगर है, न पार्टी के अन्तरकलह को खत्म कर पा रही है.



आगे सुशील मोदी ने लिखा कि राजस्थान में मुख्यमंत्री विधानसभा का सत्र बुलाने का तर्कसंगत कारण बताये बिना राज्यपाल पर इसके लिए न केवल दबाव डाल रहे हैं, बल्कि धमकियां दे रहे हैं.

बता दें कि बिहार कांग्रेस के नेता प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर मदर मोहन झा के नेतृत्व में राजभवन मार्च किया. राजभवन के समक्ष हाथों में तख्ती लेकर नेताओं ने बीजेपी पर लोकतंत्र का गला घोटने का आरोप लगाया. इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर मदन मोहन झा ने कहा कि बीजेपी लगातार चुनी हुई सरकार को अलोकतांत्रिक तरीके से गिराने का काम कर रही है.

पटना में प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस नेताओं ने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ायी. कोरोना काल में नेताओं के बीच फासला नगण्य रहा. एक दूसरे के पास-पास होकर नेताओं ने प्रदर्शन किया.