MCD election : दिल्ली के साथ बिहार की भी बढ़ी धकधकी..

MCD election

लाइव सिटीज डेस्क : दिल्ली के साथ बिहार की भी धकधकी बढ़ गयी है. भाजपा जहां ओवर कंफिडेंस में है, वहीं आप और जदयू भी इसे लेकर आशान्वित है. आज रिजल्ट आनेवाला है. गिनती शुरू हो गयी है. बस अब रिजल्ट आनेवाला ही है. शुरुआती रुझान में भाजपा आगे दिख रही है.

जी हां, बात कर रहे हैं दिल्ली में हुए एमसीडी चुनाव का. आज बुधवार को रिजल्ट आनेवाला है. इसकी काउंटिंग शुरू हो गयी है. दिल्ली के तीनों नगर निगमों पर कौन राज करेगा, इसका फैसला दोपहर तक हो जाएगा. नगर निगमों में लगातार तीसरी बार कमल खिलेगा या इस बार झाड़ू चलेगी, इस पर सबों की नजर है.

इस पर भी राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा हुआ है कि कांग्रेस की लगातार हो रही हार के सिलसिला को ब्रेक लगेगा. यह दोपहर करीब एक बजे तक चुनाव परिणाम आने के बाद साफ हो जाएगा.

इस बार दिल्ली के एमसीडी चुनाव को लेकर बिहार की भी धकधकी बढ़ी हुई है. इसका मुख्य कारण है कि इस बार के चुनाव में बिहार के सत्ताधारी दल जदयू भी भाग्य आजमा रहा है.

दिल्ली के 270 वार्डों में से लगभग 100 पर जदयू ने उम्मीदवार उतारा था.

राजनीतिक गलियारों में हो रही चर्चा के अनुसार जब तक रिजल्ट क्लियर नहीं होता है तब तक हर दल के लोग उम्मीद तो रख ही सकते हैं.

वैसे भाजपा की जीत से भी बिहार का एक तबका बहुत खुश है और कह भी रहा है कि भाजपा की जीत होती है तो वह भी बिहार की ही जीत होगी. क्योंकि, भाजपा को सांसद व दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ​लीड कर रहे हैं और वे भी बिहार से ही जड़े हैं.

MCD election

गौरतलब है कि दिल्ली के तीनों नगर निगमों के 270 वार्डों के चुनाव में 2537 उम्मीदवारों के साथ-साथ राजनीतिक दलों के भाग्य का बुधवार को खुलासा होगा. 32 केंद्रों पर 7000 से अधिक कर्मचारी मतगणना में लगे हुए हैं.

चुनाव आयोग ने प्रत्येक वार्ड की मतगणना के लिए चार से 10 टेबल लगाने का निर्णय लिया है. इस तरह समस्त वार्डों में मतगणना के पांच से 10 राउंड होंगे. सबसे कम राउंड दक्षिण दिल्ली नगर निगम के वार्ड नंबर 49 कापसहेड़ा में होंगे.

इस वार्ड में मात्र 18 पोलिंग बूथ हैं. इसके अलावा इस वार्ड में मतदाताओं की संख्या भी सबसे कम है. ऐसे में इस वार्ड का परिणाम सबसे पहले आने की संभावना है. आयोग के अनुसार इस वार्ड का परिणाम सुबह 9:30 तक आ जाएगा.