बिहार में क्राइम अनकंट्रोल! भोजपुर में आरजेडी नेता की हत्या कर रोड पर फेंका शव, गुस्से में लोग

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क : बिहार में अपराधियों पर नहीं लग पा रही लगाम. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चेतावनी भी काम नहीं आ रही है. कल भी नीतीश कुमार ने पुलिस मुख्यालय में जाकर डीजीपी एसके सिंघल समेत वरीय अधिकारियों को कहा कि कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ नहीं चलेगा. लेकिन इस चेतावनी के 24 घंटे भी नहीं बीता कि बिहार के भोजपुर जिले में अपराधियों ने एक बार फिर कानून को ठेंगा दिखाते हुए बड़ी वारदात को अंजाम दिया. मिल रही जानकारी के अनुसार, भोजपुर में अपराधियों ने युवा राजद नेता रवि यादव की गोली मार हत्या कर दी. शव को रोड पर फेंक दिया. वारदात जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र के रमडिहरा गांव में घटी है.

बताया जाता है कि रवि यादव भेड़री पंचायत से मुखिया का चुनाव लड़ चुका था और इस बार भी किस्मत आजमाने वाला था. पंचायत चुनाव को लेकर उनकी सुगबुगाहट शुरू हो गयी थी. हत्या की घटना से गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है. घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है. मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है. हालांकि इस मामले में वह अभी कुछ भी कहने से बच रही है.



हत्या से लोगों में गुस्सा

दूसरी ओर, रवि यादव की हत्या के बाद स्थानीय लोग गुस्से  में हैं. हत्या से आक्रोशित लोगों ने पीरो-सासाराम रोड को जाम कर दिया. लगभग घंटा भर जाम रहा. पुलिस के समझाने व आश्वासन के बाद जाम को हटाया जा सका. बताया जाता है कि मृतक युवा राजद नेता रवि यादव आयर थाना क्षेत्र के भेड़री गांव निवासी हरिद्वार यादव का पुत्र था. घर वालों के अनुसार, रवि श्राद्ध कर्म में भाग लेने के लिए पास के गांव में गये थे. इसी दौरान अपराधियों ने उन्हें  मार दिया. देर रात घटना को अंजाम दिया गया. गुरुवार की सुबह उनके शव को देख लोग सकते में आ गए. इसके बाद पुलिस को इसकी जानकारी दी गई. हत्या के कारण का पता नहीं चल पाया है. पुलिस के अनुसार, रवि को अपराधियों ने सिर में गोली मारी है. घटनास्थल से पुलिस को तीन खोखे मिले हैं. 

एक साल पहले हुई थी शादी

जानकारों के अनुसार, युवा राजद नेता रवि यादव की एक साल पहले ही शादी हुई थी. उसकी पत्नी गर्भवती है. घटना की जानकारी मिलते ही घर में कोहराम मच गया है. पत्नी की भी हालत खराब है. इतना ही नहीं, रवि पिछले पंचायत चुनाव में मुखिया प्रत्याशी के रूप में भाग्य आजमा चुका था. वे काफी कम वोटों से चुनाव हार गये थे. बताया जा रहा है कि इस बार भी वह चुनाव लड़ने वाले थे. इसे लेकर वे भेड़री पंचायत में लोगों से मुखिया चुनाव को लेकर संपर्क भी कर रहे थे.

दो गुटों में जबर्दस्त फायरिंग

भोजपुर जिले के कारनामेपुर ओपी के सुरेमनपुर गांव में गुरुवार की सुबह दो गुटों में भिडंत हो गई. इस दौरान हुई फायरिंग में दो लोग जख्मीर हो गए. घायलों में से एक की हालत गंभीर बनी हुई है. शुरुआती जांच में वर्चस्व  का मामला सामने आ रहा है. घटना के बाद काफी देर अफरातफरी मची रही. पुलिस तीन-चार संदिग्धों को हिरासत में लिया है. इसे लेकर तनाव बना हुआ है. बताया जाता है कि लगभग एक दर्जन राउंड फायरिंग हुई है. घायलों की पहचान राहुल कुमार व अमरेंद्र राय के रूप में हुई है.