बिहार : 11 बजे पटना पहुंचेगा रामचंद्र पासवान का पार्थिव शरीर, 4 बजे होगा अंतिम संस्कार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: केंद्रीय मंत्री और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान के सबसे छोटे भाई रामचंद्र पासवान का कल दिल्ली में निधन हो गया. रामचंद्र पासवान बिहार के समस्तीपुर से लोजपा विधायक थे. 12 जुलाई को रामचंद्र पासवान को दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद से उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी. डॉक्टरों ने लगातार उन्हें वेंटिलेटर पर रखा था. उनके निधन के बाद पूरे राजनीतिक महकमे में शोक की लहर है. बिहार और देश की राजनीति से जुड़े तमाम नेताओं ने उनके निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है.

11 बजे तक पटना आएगा पार्थिव शरीर

आज 11 बजे तक सांसद रामचंद्र पासवान का पार्थिव शरीर पटना लाया जाएगा. इसके बाद उनके पार्थिव शरीर को लोजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. इसके बाद तीन बजे उनकी अंतिम यात्रा की शुरूआत होगी. हालांकि ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव भी ले जाया जा सकता है.



राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

बता दें कि रविवार को ही सीएम नीतीश कुमार ने दिवंगत रामचंद्र पासवान का अंतिम संस्‍कार राजकीय सम्‍मान के साथ करने की घोषणा की थी. उनके अंतिम संस्कार के वक्त केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, सांसद पशुपति कुमार पारस और चिराग़ पासवान समेत परिवार के दूसरे सदस्य भी साथ रहेंगे. वहीं बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी, बिहार सरकार में मंत्री नंदकिशोर यादव समेत बीजेपी के अन्य नेता और विधायक भी उनके अंतिम संस्कार में शामिल होंगे. बता दें कि रामचंद्र पासवान का अंतिम संस्कार दीघा के जनार्दन घाट पर किया जाएगा.

बता दें कि रामचंद्र पासवान का रविवार को नई दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में निधन हो गया था. वे 57 वर्ष के थे. 12 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में दाखिल कराया गया था. रविवार दोपहर एक बजकर 24 मिनट में डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

अपराधी ने महिला पोस्टमास्टर को मारी गोली, भीड़ ने आरोपी को उतारा मौत के घाट