बोले डिप्टी सीएम- लालू ऑडियो कांड की हो जांच, हेमंत सरकार से कार्रवाई की मांग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: रांची रिम्स में इलाजरत और चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के ऑडियो वायरल मामले में बिहार की राजनीति गरमा गयी है. पक्ष और विपक्ष एक दूसरे को घेरने का एक भी मौका नहीं छोड़ रहा है. इसी कड़ी में अब बिहार ने नवनिर्वाचित डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने भी इसको गलत बताया है.

उन्होंने कहा है कि इसकी जांच होनी चाहिए. वैधानिक तरीके से इसकी जांच, उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए. उन्होंने यह तक कह दिया कि अगर सीबीआई तक भी जांच का दायरा जाये तो भी कोई दिक्कत नहीं है. मुख्यमंत्री के पास इस बात को रखा जाएगा और उनसे इसपर सलाह ली जाएगी.



तारकिशोर प्रसाद ने स्पष्ट कर दिया कि अगर हेमंत सोरेन की सरकार लालू प्रसाद पर कार्रवाई नहीं करती हैं तो वह इस मामले को लेकर केंद्र सरकार से गुहार लगाएंगे. अगर जरूरत पड़ी तो वह सीबीआई से भी जांच की मांग कर सकते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि वोटिंग के दौरान दबाव बनाया गया. विधानसभा में वोटों की गिनती कर रहे विधानसभा के कर्मी का नोटबुक छिना गया. तेजस्वी यादव जिस तरीके से लोकतंत्र की दुहाई की बात कर रहे थे. लेकिन इतना वह हताश क्यों हैं. एक तरह वह लोकतंत्र की दुहाई देते हैं तो दूसरी तरह बीजेपी विधायक को कॉल कर लालू प्रसाद धमकी दे रहे हैं. क्या यह सही है. कानून का उल्लंघन करना लालू प्रसाद का रिकॉर्ड रहा है.