विकास दिखना चाहिए, सीएम नीतीश ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क : साल निश्यच पार्ट-2 की योजनाओं को समय पर पूरा कराने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कमर कस लिया है. वो लगातार समीक्षा पर समीक्षा बैठक कर रहे हैं. साल 2021 के पहले ही दिन सीएम नीतीश ने समीक्षा बैठक कर यह संदेश दे दिया कि वो विकास के कामों से किसी प्रकार की समझौता नहीं करने वाले हैं. आज भी उन्होंने दो विभाग की योजनाओं की समीक्षा की.

मुख्यमंत्री सचिवालय के संवाद कक्ष में सीएम नीतीश ने समीक्षा बैठक की. सात निश्चय पार्ट-2 के तहत उद्योग विभाग और सुलभ संपर्कता योजनाओं की समीक्षा की. इस दौरान डिप्टी सीएम रेणु देवी समेत प्रधान सचिव दीपक कुमार और संबंधित विभाग के मंत्री  और अधिकारी मौजूद रहें.



उद्यमी योजनाओं की समीक्षा करते हुए सीएम नीतीश ने बिहार में उद्योग धंधे के विकास के लिए बनायी गयी योजनाएं और उसे धरातल पर उतारने में आ रही दिक्कतों के बारे में अधिकारियों से चर्चा किया. इस दौरान विभाग के मंत्री व अधिकारियों ने सीएम के समझ प्रेजेनटेशन दिया.

वहीं सुलभ संपर्कता योजनाओं की समीक्षा करते हुए सीएम नीतीश ने स्मूथ कनेक्टिविटी को और विकास करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी भी जिले से राजधानी पटना आने में रोड कनेक्टिविटी सुलभ होनी चाहिए. उसके समय को और घटाने की जरूरत है. इसके लिए इंफ्रास्ट्रक्टर को और ठीक करना होगा.

पहली जनवरी को हुई थी 3 बैठकें

साल की शुरुआत ही विकास कार्यों की बैठक से हुई. उस दिन तो सर्वाधिक तीन बैठकें हुईं. इसमें परिवहन विभाग, ग्रामीण विकास विभाग के साथ ही मुख्यमंत्री ने लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम के कार्यान्वयन की भी समीक्षा की. इसके साथ ही वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सूचना भवन में नए लोक सेवा केंद्र का शुभारंभ किया गया था. बता दें कि नीतीश कुमार ने साल के अंत यानी गुरुवार को पश्चिमी चंपारण के चनपटिया में स्टार्टअप योजना का निरीक्षण किया था. साथ ही बेतिया में सड़क निर्माण का जायजा लिया था.