बिहार: धूम-धाम से मनाया गया रामनवमी, पटना की सड़कों पर उतरा भक्‍तों का जनसैलाब

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : देश के साथ-साथ पूरे बिहार में शनिवार को रामनवमी का पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया गया. हर जगह जय श्रीराम के जयकारे से गूंज उठा. बिहार के हर मंदिर में काफी संख्या में लोग दर्शन करने के लिए पहुंचे. सभी मंदिर में लंबी-लंबी कतारें देखने को मिली. खासकर पटना के प्रसिद्ध महावीर मंदिर में तो दर्शन करने के लिए शुक्रवार की रात से ही श्रद्धालुओं की लंबी-लंबी कतार लगी हुई थी. शनिवार को पूरा दिन मंदिर में काफी भीड़ थी. पूर बिहार में अच्छे से रामनवमी का पर्व मनाया गया. पटना की सड़कों पर भक्तों का जनसैलाब उतारा था.

आपको बता दें कि शनिवार को देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बिहार के सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने सभी देशवासियों को रामनवमी की हार्दिक बधाई भी दी थी. अगर देखा जाए तो मिला जूला कर रामनवमी का पर्व शांति ढंग से सभी जगह मनाया गया. पटना में कई जगहों पर जलपान की भी व्यवस्था की गई थी. सभी जगह स्टॉल लगा लगाकर शरबत पिलाया जा रहा था.

बिहार में शनिवार को दिनभर रामनवमी की धूम रही. इस अवसर पर राजधानी पटना सहित पूरे राज्‍य के मठ-मंदिरों को फूल-मालाओं एवं बिजली के रंग-बिरंगे बल्बों से सजाया गया. वहीं शाम में विभिन्‍न स‍मितियों की ओर से शोभायाात्राएं निकाली गईं. इसे लेकर पटना की सड़कों पर भक्‍तों का रेला रहा. खासकर डाकबंगला चौराहे पर तो भीड़ इतनी थी कि तिल रखने की जगह नहीं थी. चौराहे पर सुरक्षा के पुख्‍ता प्रबंध थे. पटना की एसएसपी गरिमा मलिक खुद वहां मौजूद रहकर मॉनिटरिंग कर रही थीं. वहीं पटना के प्रसिद्ध महावीर मंदिर में तो दर्शन के लिए बीती रात 12 बजे से ही श्रद्धालुओं का जो तांता लगा, वह शनिवार की रात में जाकर खत्‍म हुआ.

रामनवमी के अवसर पर पटना में तीन दर्जन भव्‍य शोभायात्राएं निकाली गईं. इनके स्वागत और सम्मान के लिए पटना के डाकबंगला चौराहे पर भव्‍य आयोजन किया गया. शोभायात्राओं को देखने श्रद्धालुओं की काफी भीड़ जुटी. जय श्रीराम के जयकारों से शहर गूंजता रहा. रामनवमी को लेकर पूरे बिहार, खासकर पटना में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी. डाकबंगला चौराहे पर तो चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस बल तैनात रहे.

महावीर मंदिर में चार लाख श्रद्धालुओं के आने की उम्‍मीद

बता दें क‍ि श्रीरामनवमी को लेकर पटना जंक्‍शन के पास स्थित महावीर मंदिर में देर रात से ही श्रद्धालुओं का तांता लग गया था. रात 12 बजे से ही महावीर मंदिर के गेट से लेकर जीपीओ गोलंबर तक महिला व पुरुष श्रद्धालुओं की दो कतारें लग गई थीं. महावीर मंदिर न्यास समिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि शनिवार होने के कारण श्रीरामनवमी के दिन महावीर मंदिर में काफी भीड़ रही.

20 हजार किलो से अधिक नैवेद्यम बिके 

पटना जंक्‍शन के निकट महावीर मंदिर में श्रीरामनवमी के अवसर पर नैवेद्यम की बिक्री के लिए 14 काउंटर लगाए गए थे. इन काउंटरों से 20 हजार किलो नैवेद्यम की बिक्री की व्यवस्था की गई थी. नैवेद्यम का कीमत 250 रुपए प्रति किलो रखा गया था. आकलन किया जा रहा है कि कितने नैवेद्यम बिके. यह आकलन रविवार को ही फाइनल होगा.

प्रसाद चढ़ाने के लिए उत्तरी द्वार से दी गई इंट्री

शनिवार को महावीर मंदिर में प्रसाद चढ़ाने वाले श्रद्धालुओं को इंट्री उत्तरी द्वार से दी गई थी. उनके लिए शुक्रवार की रात दो बजे ही मंदिर का पट दर्शन एवं प्रसाद चढ़ाने के लिए खोल दिया गया था. बिना प्रसाद चढ़ाने वाले श्रद्धालुओं के प्रवेश के लिए मंदिर के पूर्वी द्वार की ओर व्‍यवस्‍था की गई थी.

डाकबंगला चौराहे पर भक्ति गीतों की प्रस्तुति

कार्यक्रम के दौरान भक्ति गीतों से शहर को सराबोर करने के लिए शहर के वरिष्ठ लोक गायक सत्येंद्र कुमार संगीत व उनकी टीम की ओर से भक्ति गीतों को प्रस्‍तुत किया. जगह-जगह पर लोगों को पानी और शरबत दिए गए. इसके लिए बाजाप्‍ता स्‍टॉल लगाए गए थे.