कैमूर में मतगणना केन्द्र का डीएम और एसपी ने लिया जायजा, जिलाधिकारी ने कहा-कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच होगी मतों की गिनती

लाइव सिटीज, कैमूर/भभुआ(ब्रजेश दुबे) : कैमूर जिले के चारों विधानसभा की मतगणना मंगलवार को चाक-चौबंद व्यवस्था के बीच होगी. मतगणना केन्द्र का जिलाधिकारी डॉक्टर नवल किशोर और एसपी दिलनवाज अहमद ने जायजा लिया. स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था का बारीकी से निरीक्षण किया, और ड्यूटी में तैनात सुरक्षाकर्मी और पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए.

लाइव सिटीज से बात करते हुए जिलाधिकारी कैमूर ने बताया कि मतों की गिनती पूरी सुरक्षा व्यवस्ता के बीच की जाएगी. कोरोना प्रोटोकॉल का हर हाल में कड़ाई से पालन होगा. मतगणना केंद्र के अंदर कोई भी मोबाइल का प्रयोग नहीं होगा. वाहनों की जांच मेटर डिटेक्टर से की जाएगी.



डीएम ने बताया कि चारों विधानसभा के लिए अलग-अलग हॉल में 14 टेबल लगाए गए हैं, जहां सही आंकड़े के साथ काउंटिंग की प्रक्रिया शुरू होगी. मतगणना की प्रक्रिया का वीडियो रिकॉर्डिंग करायी जाएगी. बाहर में सीसीटीवी कैमरे लगे रहेंगे. नियंत्रण कक्ष से पूरे मतदान केंद्र की निगरानी होगी.

उन्होंने कहा कि प्रशासन के प्रोटोकॉल को तोड़ने वालों से पुलिस सख्ती से निपटेगी. मतगणना केंद्र के अंदर आते ही सभी कर्मियों और राजनीतिक दलों के एजेंटों को पहले हाथ सेनीटाइज करना होगा. उनकी थर्मल स्क्रीनिंग होगी और बिना मास्क के किसी को भी अंदर जाने की इजाजत नहीं होगी.

वहीं एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि मतगणना केंद्र पर 3 लेयर में सुरक्षा व्यवस्था की गई है. शहर में भी पेट्रोलिंग लगातार होगी. धारा-144 का कड़ाई से पालन किया जाएगा. किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी. 500 पुलिसकर्मी मतगणना केंद्र पर तैनात किए गए हैं.

डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने मतगणना के दिन ट्रैफिक प्लान को बताते हुए कहा कि शहर के चांदनी चौक तथा दसौंति पुल पर कड़ाई से चेकिंग होगी. मतगणना कार्य में लगे व्यक्ति, राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों के एजेंट तथा मीडिया कर्मियों के अलावे किसी की भी गाड़ी इन दो जगहों से लगे चेकपोस्ट को पार नहीं करेगा. जो भी वाहन दुर्गा मंदिर के पास पहुंचेंगे उनको स्टेशन के पास बने पार्किंग स्थल तथा एनएच 30 की ओर जाने वाले रास्ते में गाड़ी लगाने की इजाजत रहेगी.